आज पूरे 38 की हो गई बीजेपी, सुबह-सुबह आया पीएम का ये वीडियो

बीजेपीनई दिल्‍ली। भारतीय जनता पार्टी आज 38 साल की हो गई है। शुक्रवार को पार्टी अपना 39वां स्थापना दिवस मना रही है। इस मौके पर पार्टी की ओर से कई कार्यक्रम भी आयोजित किए जा रहे हैं। वहीं बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह मुंबई में आज तीन लाख कार्यकर्ताओं को संबोधित करने वाले हैं। वहीं शाम को पीएम मोदी भी पांच संसदीय क्षेत्रों के कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद करेंगे।

बीजेपी का स्‍थापना दिवस

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार सुबह ही ट्वीट कर सभी बीजेपी कार्यकर्ताओं को स्‍थापना दिवस की बधाई दी। पीएम मोदी ने लिखा कि मेरे भाइयो और बहनों को बीजेपी के स्थापना दिवस की बधाई। बीजेपी न्यू इंडिया की पार्टी है। यह एक ऐसी पार्टी है, जो भारत की विविधता और उसके अनोखी संस्कृति पर विश्वास करती है। 125 करोड़ की जनता हमारी ताकत है।

Also Read : कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 में भारत की जीत का सिलसिला जारी, संजीता चानू ने दिलाया दूसरा गोल्ड मेडल

इसके साथ ही पीएम मोदी ने एक वीडियो भी ट्वीट किया है। वीडियो में मोदी ने कहा कि हमारे कार्यकर्ता हर जगह हैं। वे ही पार्टी की आत्मा और शक्ति हैं। कार्यकर्ताओं ने अपनी मेहनत से पार्टी को इस ऊंचाई तक पहुंचाया है। यह उनकी कोशिशों का ही नतीजा है कि बीजेपी आज भारत के लोगों की सेवा कर पा रही है और उनकी आकांक्षाओं पर खरी उतर रही है।

वहीं बीजेपी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह ने भी कार्यकर्ताओं को बधाई दी है। शाह मुंबई में आज एक विशाल रैली को संबोधित करेंगे। इस रैली को बीजेपी की तरफ से मिशन 2019 का बिगुल फूंकना भी बताया जा रहा है। रैली में करीब तीन लाख कार्यकर्ताओं के शामिल होने की उम्‍मीद है। इसके लिए 28 ट्रेनें, 5000 बसों से कार्यकर्ता देश के कई हिस्सों से मुंबई पहुंच रहे हैं। रैली को संबोधित करने के बाद अमित शाह यहां एक प्रेस कॉन्फ्रेंस भी कर सकते हैं।

Also Read :  अब ऑनलाइन मीडिया के लिए भी बनेंगे नियम, सरकार ने बनाई 10 सदस्‍यीय कमेटी

आपको बता दें कि इमरजेंसी के दौरान भारतीय जनसंघ और दूसरे राजनीतिक दलों ने महागठबंधन किया और जनता पार्टी का जन्म हुआ था। जनता पार्टी ने तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की नीतियों के खिलाफ चुनाव लड़ा और पार्टी को बड़ी जीत मिली थी।

लेकिन जनता पार्टी में आंतरिक कलह पैदा हो गई और जनता पार्टी की सरकार अपना कार्यकाल भी पूरा नहीं कर सकी। इसके बाद जनसंघ जनता पार्टी से अलग हो गई। 6 अप्रैल 1980 को भारतीय जनता पार्टी के नाम से नई पार्टी का गठन हुआ। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी पार्टी के पहले अध्यक्ष बने थे।

 

Related Articles