आज है सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण, जानें कब और कैसे देखें

दुनिया संसार में निरंतर बदलाव होते रहते हैं। इन बदलावों के साथ हमें बहुत सी चीज़ें देखने को भी मिलती है। हर साल दुनिया में सूर्यग्रहण तथा चंद्रग्रहण भी लगता है जिसका तरह-तरह का प्रभाव देखने को मिलता है। साल 2018 का चंद्रग्रहण इस माह 27 जुलाई को लगने जा रहा हगे जिसे ‘सूतक’ का सही समय भी बताया जा रहा है। ज्योतिषों के अनुसार इस माह आषाढ़ मास की शुक्ल की पूर्णिमा को चंद्रग्रहण लग रहा है।

आज लगेगा सदी का सबसे बड़ा चंद्रग्रहण, जाने कब देख सकते है..

ज्योतिषाचार्य के मुताबिक इस बार चंद्रग्रहण पर अत्यंत खास संयोग बन रहा है, क्यूंकि ग्रहण के अगले ही दिन पवित्र सावन मास शुरू हो रहा है। बात करें ग्रहण की तो चंद्रग्रहण रात्रि 11 बजकर 54 मिनट पर शुरू होगा जिसकी समाप्ति रात्रि 3 बजकर 5 मिनट पर होगी। जानकारों के अनुसार यह चंद्रग्रहण पूरे भारत में दिखाई देगा।

आज आकाश में एक अद्भुत नजारा होगा। बात करें जानकारों की तो उनके मुताबुइक भारतीय समय अनुसार, चंद्रग्रहण की शुरुआत उपछाया के ग्रहण से 22:42:48 बजे होगी। उस समय चंद्रमा की चमक थोड़ी सी धूमिल होती है लिहाजा आमतौर पर आपको इसका पता नहीं चलता है।

ज्योतिषाचार्य के मुताबिक रात्रि 11:53:48 बजे छाया का ग्रहण आरंभ होगा अर्थात चंद्रमा तब पृथ्वी की घनी छाया में प्रवेश करेगा। इसी के साथ चंद्रमा की गोल आकृति धीरे-धीरे काली पड़ती दिखाई देगी। इसी के साथ आंशिक चंद्रग्रहण की शुरुआत हो जाएगी। धीरे-धीरे चंद्रमा की गोल आकृति और भी ज्यादा मुख्य छाया में छुपती जाएगी। रात्रि 00:59:39 बजे चंद्रमा पूरी तरह से पृथ्वी की घनी छाया में प्रवेश कर जाएगा। यह क्षण होगा पूर्णता की स्थिति के आरंभ का और तब चंद्रमा पूरी तरह से अदृश्य नहीं हो जाएगा। तब यह चंद्रमा लाल आभा लिए हुए नजर आएगा।

यह नजारा 103 मिनट का है और 02:43:14 बजे पर चंद्रमा पृथ्वी की घनी छाया से बाहर आने लगेगा. उस समय लाल रंग धीरे धीरे खत्म होने लगेगा। चंद्रमा का चमकीला हिस्सा भी दिखने लगेगा और आंशिक ग्रहण की शुरुआत फिर से हो जाएगी। यह आंशिक ग्रहण 3:49:02 बजे पर खत्म हो जाएगा, उसके बाद यह चंद्रमा पृथ्वी के उपछाया में आ जाएगा तब चंद्रमा लगभग सामान्य रूप से चमकने लगेगा। उपछाया का ग्रहण 05:00:05 बजे खत्म हो जाएगा और इसी के साथ इस बार का चंद्र ग्रहण खत्म हो जाएगा।

Related Articles