‘किसान घेरा कार्यक्रम’ के तहत आज सपा के बड़े नेता किसानों से होंगे रूबरू, संघर्ष में साथ का देंगे भरोसा

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के निर्देश पर समाजवादी पार्टी 25 दिसम्बर को समाजवादी ‘किसान घेरा कार्यक्रम’ पूरे प्रदेश में आयोजित करेगी। इसी दिन महाराजा बिजली पासी की जयंती भी पार्टी कार्यालय, लखनऊ में मनाई जाएगी।

‘किसान घेरा कार्यक्रम’ में पार्टी के बड़े नेताओं पर पूरा दारोमदार

अखिलेश यादव ने इसके लिये पार्टी के सांसदों, विधायकों, पूर्व विधायक और अन्य नेताओं को अलग अलग जिम्मेवारी सौंपी है। सभी लोग अलग अलग जिलों के गांव में किसानों के बीच तीन कृषि कानून की कमियां बतायेंगे।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि किसान भाजपा राज में सबसे ज्यादा अन्याय का शिकार हुआ है। भाजपा सरकार ने किसानों से किया अपना एक भी वादा तो निभाया नहीं उल्टे किसान विरोधी तीन कानून लाकर उसने कारपोरेट के हाथों किसानों को बर्बाद करने की साजिश रच डाली है।

पूरे देश के किसान इसके खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं। सपा किसानों की पार्टी है। वह किसानों के संघर्ष में उनके साथ है। कार्यक्रम के जरिए किसानों तक अपना समर्थन पहुंचाने के साथ समाजवादी सरकार की किसान कल्याणकारी योजनाओं की भी जानकारी देंगे।

किसानों के संघर्ष को अपना बनाने की तैयारी में सपा

किसान घेरा कार्यक्रम में समाजवादी पार्टी के प्रमुख नेता गांवों में घेरा बनाकर अलाव के साथ चौपाल में किसानों से बातचीत करेंगे। उनकी समस्याओं पर चर्चा करेंगे और उनके संघर्ष में सहयोगी होने का भरोसा दिलाएंगे।

विरोधी दल के नेता रामगोविन्द चौधरी बलिया के बड़ा गांव में तो प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल लखनऊ में मोहनलालगंज के कपेरा मदारपुर गांव में रहेंगे ।

यह भी पढ़ें: विद्यार्थियों के लिए खुशखबरी, प्रेशर कम करने के लिए लिया गया बड़ा फैसला  

Related Articles