शेयर मार्केट में आई गिरावट, सेंसेक्स 264 अंक पर रूका

ऊर्जा, एफएमसीजी, आईटी और टेक समूहों ने बाजार पर सबसे अधिक दबाव बनाया। इनमें निवेशकों ने जमकर बिकवाली की। इससे पहले सेंसेक्स 21 दिसंबर के बाद से लगातार 10 दिन बढ़त में रहा था।

मुंबई: घरेलू शेयर बाजारों में पिछले 10 दिनों की तेजी पर आज ब्रेक लग गया और बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स मंगलवार के रिकॉर्ड स्तर से 263.72 अंक यानी 0.54 प्रतिशत गिरकर 48,174.06 अंक पर तथा नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 53.25 अंक यानी 0.38 प्रतिशत की टूटकर 14,146.25 अंक पर बंद हुआ।

ऊर्जा, एफएमसीजी, आईटी और टेक समूहों ने बाजार पर सबसे अधिक दबाव बनाया। इनमें निवेशकों ने जमकर बिकवाली की। इससे पहले सेंसेक्स 21 दिसंबर के बाद से लगातार 10 दिन बढ़त में रहा था। सेंसेक्स की शुरुआत आज भी करीब 200 अंक की बढ़त में हुई, लेकिन कुछ ही देर में बिकवाली हावी होने से यह लाल निशान में चला गया और पूरे दिन उबर नहीं सका।

मझौली कंपनियों में जहाँ निवेशकों ने पैसा लगाया, वहीं छोटी कंपनियों में वे बिकवाल रहे। बीएसई का मिडकैप 0.39 प्रतिशत चढ़कर 18,749.03 अंक पर पहुँच गया। स्मॉलकैप 0.14 प्रतिशत की गिरावट में 18,615.17 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स की कंपनियों में आईटीसी का शेयर तीन प्रतिशत के करीब टूट गया। रिलायंस इंडस्ट्रीज में भी ढाई फीसदी से अधिक की गिरावट रही। बजाज फाइनेंस का शेयर दो प्रतिशत और एक्सिस बैंक का डेढ़ प्रतिशत के करीब टूटा। पावरग्रिड में करीब साढ़े चार फीसदी की बढ़त देखी गई। भारती एयरटेल और ओएनजीसी के शेयर भी दो प्रतिशत से अधिक चढ़े।

एशियाई शेयर बाजारों में मिश्रित रुख रहा। दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.75 प्रतिशत और जापान का निक्की 0.38 प्रतिशत गिरकर बंद हुआ। वहीं, चीन का शंघाई कंपोजिट 0.63 प्रतिशत और हांगकांग का हैंगसेंग 0.15 प्रतिशत की तेजी में रहा। यूरोप में शुरुआती कारोबार में ब्रिटेन का एफटीएसई 1.81 प्रतिशत और जर्मनी का डैक्स 0.88 फीसदी चढ़ा।

यह भी पढ़ें :अब हीरोइन से हटकर ‘विलन’ में नजर आएंगी दिशा पाटनी!

यह भी पढ़ें: कार्गो टर्मिनल हब के लोकार्पण समारोह में क्या बोले शिवराज सिंह चौहान?

Related Articles