प्रेमजाल में फंसाकर भारतीय युवाओं को ISIS के लिए करती थी तैयार, हुई गिरफ्तार

0

नई दिल्ली: भारतीय युवाओं को रिक्रूट करने की कोशिश में जुटे सबसे खतरनाक आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (ISIS) को एक तगड़ा झटका लगा है। दरअसल, फिलिफींस में भारतीय मूल की एक ऐसी महिला गिरफ्तार की गई है जो सोशल मीडिया के माध्यम से युवाओं को अपने आतंकी संगठन से जोड़ने के लिए बरगलाने का काम करती थी। 2015 में ISIS आतंकी सिराजुद्दीन की गिरफ्तारी के बाद से ही यह महिला NIA के रडार पर थी।

मिली जानकारी के अनुसार, फिलिपीन्स से कैरन ऐज़ा हामिदन नाम की महिला को गिरफ्तार किया है। 36 वर्षीय किरण सोशल मीडिया के माध्यम से भारतीय युवाओं को ISIS के लिए तैयार करने का काम करती थी। अब NIA इस महिला से पूछताछ करने की तैयारी कर रही है। इसके लिए फिलिपीन्स सरकार से बातचीत भी की जा रही है। बताया जा रहा है कि जल्द ही NIA वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से कैरन से पूछताछ करेगी।

बताया जा रहा है कि इंडियन ऑयल के अधिकारी रहे मोहम्मद सिराजुद्दीन को सोशल मीडिया के जरिये अपने प्रेम जाल में फंसाकर ISIS का आतंकी बनाने में कैरन का ही हाथ था। कैरन के चलते ही सिराजुद्दीन ने युवाओं को ISIS से जोड़ना शुरू कर दिया था। अपने इस काम को अंजाम देने के लिए कैरन फेसबुक, टेलीग्राम और वॉट्सएप जैसे कई ओशल मीडिया का प्रयोग करती थी।

कैरन ऐजा हामिदीन तब NIA की रडार पर पहली बार आई थी जब वर्ष 2015 में सिराजुद्दीन को गिरफ्तार किया गया था।  गिरफ्तारी के बाद सिराजुद्दीन ने बताया था कि फिलीपीन्स की रहने वाली कैरन ने ही उससे सोशल मीडिया पर संपर्क किया था और फिर ISIS में रिक्रूट किया था। बताया जाता है कि कम से कम 4 भारतीयों ने NIA की पूछताछ में हामिदन का नाम लिया था।

loading...
शेयर करें