हंटर के खिलाफ व्यापार संबंधित रिपोर्ट्स रूस के दुष्प्रचार अभियान का हिस्सा: बाइडेन

बाइडेन ने कहा कि उन्हें अभी भी विश्वास है कि उनके बेटे हंटर बिडेन के खिलाफ व्यापार से संबंधित मीडिया रिपोर्ट्स रुसी दुष्प्रचार अभियान का हिस्सा है।

वाशिंगटन: अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा कि उन्हें अभी भी विश्वास है कि उनके बेटे हंटर बिडेन के खिलाफ व्यापार से संबंधित मीडिया रिपोर्ट्स रुसी दुष्प्रचार अभियान का हिस्सा है।

अमेरिकी मीडिया ने दरअसल राष्ट्रपति चुनावों से पहले यूक्रेन की एक संस्था बूरिस्म के एक बड़े अधिकारी वादिम पोज़्हारसकई और जो बिडेन के बेटे हंटर बाइडेन के बीच बातचीत के दो ईमेल जारी किये थे जिसमें पोज़्हारसकई ने उनके पिता जो बाइडेन के साथ बैठक आयोजित करने को लेकर हंटर का धन्यवाद किया था और पूछा था कि उपराष्ट्रपति रहते हुए जो बाइडेन यूक्रेनी कंपनी का समर्थन करने के लिए अपने ‘प्रभाव’ का किस तरह से इस्तेमाल कर सकते हैं।

बाइडेन से बुधवार को जब संवाददाता सम्मेलन के दौरान उनके बेटे को लेकर इसी तरह का सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, “हां,हां,हां , मुझे विश्वास है कि यह रिपोर्ट्स रुसी दुष्प्रचार अभियान का हिस्सा हैं। उन्होंने कहा कि न्यायिक विभाग उनके बेटे पर लगे भ्रष्ट व्यापार के आरोपों की जांच के निर्णय को आगे बढ़ाने के लिए स्वतंत्र होगा।

अमेरिकी अटॉर्नी कार्यालय

उन्होंने कहा कि हंटर बिडेन की कानूनी परेशानियों को लेकर उनकी टीम और भविष्य में चुने जाने वाले अमेरिका के नए अटॉर्नी जनरल के बीच इस संबंध में कोई चर्चा नहीं हुई है। उन्होंने इस महीने की शुरुआत में घोषणा करते हुए यह भी बताया था कि डेलावेयर में अमेरिकी अटॉर्नी कार्यालय उनके टैक्स रिकॉर्ड की जांच भी कर रहा है और उन्हें विश्वास है कि जांच में यही सामने आएगी कि वह कानूनी और उचित तरीके से काम कर रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार हंटर बिडेन ने चार लाख अमेरिकी डॉलर की आय का उल्लेख नहीं किया है जो उन्हें 2014 में यूक्रेनी ऊर्जा कंपनी बूरिस्म के निदेशक मंडल में शामिल होने के बाद मिली थी। अमेरिका के माजूदा राष्ट्र्पति डोनाल्ड ट्रंप ने भी इससे पहले हंटर बिडेन के मुद्दे को उठाया था और अमेरिकी प्राधिकारियों से इस उपराष्ट्रपति के पद का फायदा उठाने को लेकर उनके खिलाफ जांच करने के निर्देश भी दिए थे।

यह भी पढ़े: प्रयागराज के फूलपुर स्थित इफको प्लांट में अमोनिया गैस रिसाव,दो अधिकारियों की मृत्यु

Related Articles

Back to top button