रोडवेज की सभी बसों में सफर हुआ महंगा, जानिए किस रूट पर कितना बढ़ा किराया

मेरठ: नए साल पर रेल के बढ़े किराए के बोझ से लोग उबर ही नहीं पाए थे कि यूपी रोडवेज ने भी गुरुवार को यात्री किराए में बढ़ोतरी का ऐलान कर दिया। राज्य परिवहन प्राधिकरण (एसटीए) की मंजूरी के बाद रोडवेज प्रबंधन ने बसों के किराए में 10 पैसे प्रति किमी की दर से बढ़ोतरी कर दी है।

सोहराब गेट डिपो के प्रभारी मदन पाल सिंह ने बताया कि लखनऊ का किराया 55 रुपये बढ़ कर 562 हो गया है। यायात्रियों से बढ़ा हुआ किराया लेने में परिचालकों को शुरूआत में थोड़ी दिक्कत आई थी।

देशभर के 611 स्टेशनों को सर्वे में शामिल किया गया था। मेरठ को नान सबअर्बन ग्रुप 3 का स्टेशन चिह्न्ति किया गया है। ऐसा सर्वेक्षण के तौर तरीके बदलने के कारण हुआ था। सर्वेक्षण में मशीनों द्वारा साफ सफाई और इन्फ्रास्ट्रक्चर को भी जोड़ा गया था। इन बिंदुओं पर सिटी स्टेशन पिछड़ गया था। सर्वे के दौरान यात्रियों ने स्टेशन पर साफ सफाई की स्थिति बेहतर बताई थी। डीआरएम एससी जैन ने बताया कि मेरठ को जल्द साफ सफाई के लिए मशीनें उपलब्ध कराई जाएंगी।

एमडी राज शेखर के अनुसार बढ़ा किराया गुरुवार आधी रात से ही लागू कर दिया गया है। रोडवेज के निदेशक मंडल ने बीते हफ्ते बोर्ड बैठक में किराया बढ़ाने का निर्णय लेते हुए प्रस्ताव राज्य परिवहन प्राधिकरण के पास मंजूरी के लिए भेजा था। रोडवेज के प्रपोजल पर मुहर लगा दी गई।

मेरठ से अलग अलग स्थानों के लिए इस तरह बढ़ा किराया

रूट      पहले     वर्तमान

दिल्ली    92        98

लखनऊ >>514 >>562

कानपुर >>445 >>485

देहरादून >>216 >>228

हरिद्वार >>164 >>174

गाजियाबाद >>51 >>55

कौशांबी >>62 >>68

मुजफ्फरनगर >>68 >>74

सहारनपुर >>157 >>171

बड़ौत >>57 >>63

बागपत >>55 >>61

ऋषिकेश >>202 >>212

बरेली >>257 >>279

मुरादाबाद >>144 >>158

आगरा >>251 >>273

अलीगढ़ >>157 >>171

बुलंदशहर >>76 >>84

शामली >>92 98

बिजनौर >>86 >>94

हस्तिनापुर >>40 >>44

मवाना >>30 >>32

नजीबाबाद >>125 >>137

कोटद्वार >>151 >>165

वातानुकूलित बस

लखनऊ >>666 >>737

लखनऊ स्लीपर >>1082 >>1183

लखनऊ स्कैनिया>>1082 >>1207

दिल्ली जनरथ >>109 >>116

आगरा जनरथ >>377 >>414

सिटी स्टेशन को आइएसओ 14001:2015 सर्टिफिकेट

सिटी स्टेशन पर साफ सफाई व्यवस्था को सुधरी स्थिति का आकलन करने के बाद उसे आइएसओ 14001:2015 सर्टिफिकेट प्रदान किया गया है। दिल्ली मंडल के रेल प्रबंधक एससी जैन ने बताया कि नेशनल ग्रीन टिब्यूनल के निर्देशानुसार दिल्ली मंडल के दिल्ली कैंट, पालम और पानीपत जंक्शन स्टेशन समेत 33 स्टेशनों को आइएसओ 14001:2015 सर्टिफिकेशन के लिए नामित किया गया था।

Related Articles