IPL
IPL

मनचलों से परेशान 11वीं की छात्रा, खुदखुशी करने कोशिश की, परिजन ले गए अस्पताल

छात्रा ने बताया कि इलाके में रहने वाले दबंग नीरज सोनकर नाम युवक से पहले मोहल्ले के युवक के नाते बात कर लेती थी।

लखनऊ: योगी सरकार महिलाओं की सुरक्षा को लेकर तमाम प्रकार की योजना लाती है। लेकिन जब किसी की बहन या बेटी मनचलों से परेशान होकर खुदखुशी करने की ठान लेती है वहां सरकार की सारी योजनाएं धूमिल हो जाती है। ऐसे में एक कानपुर का मामला सामने आया है। गल्ला मंडी में रहने वाली 11वीं एक छात्रा ने छेड़छाड़ और मनचलों की धमकी से परेशान होकर नींद की 24 गोलियां खाकर खुदकुशी करने का प्रयास किया है। परिजनों ने उसे गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसका इलाज चल रहा है।

दरअसल पूरा मामला विधु के गल्ला मंडी का है, जहां मोहल्ले के एक मनचले की हरकतों से परेशान होकर छात्रा ने नींद की गोलियां खा लीं। इसके बाद पीड़ित छात्रा की तहरीर पर पुलिस ने घर में घुसकर छेड़खानी करने व धमकाने समेत कई धाराओं में केस दर्ज कर लिया है।

छात्रा ने बताया कि

गल्ला मंडी निवासी महिला की 18 वर्षीय बेटी 11वीं की छात्रा है। छात्रा ने बताया कि इलाके में रहने वाले दबंग नीरज सोनकर नाम युवक से पहले मोहल्ले के युवक के नाते बात कर लेती थी। मगर उसका उसने गलत मतलब निकाला उसके बाद से छात्रा ने बोलचाल खत्म कर दी। मगर फिर भी नीरज आए दिन उसका रास्ता रोकता था, जिसकी शिकायत उसने अपने परिजनों से भी की। मगर मोहल्ले के कुछ लोगों की मध्यस्थता के बाद मामले को शांत कराया गया।

में देता था धमकी

इसके बाद नीरज के हौसले बढ़ते चले गए और फिर वह आए दिन रास्ता रोकने लगा। पीड़ित छात्रा अपनी बहन के साथ जा रही थी, तभी उसने उसका रास्ता रोका और उससे अश्लील बातें करने लगा। छोटी बहन के विरोध करने पर उसे डराने-धमकाने भी लगा। छात्रा के मुताबिक उसने इन हरकतों की शिकायत नीरज की पत्नी से की, जिसके बाद वह आग-बबूला हो गया। 27 मार्च की सुबह बगल में खाली पड़े प्लॉट से छत के रास्ते वह पीड़ित छात्रा के घर घुस आया। घर में अकेला पाकर उससे अश्लीलता करने लगा और उसके विरोध करने पर उसे थप्पड़ जड़ दिए। पीड़ित छात्रा के शोर मचाने पर वहां से भाग निकला।

इस हरकत से परेशान होकर पीड़ित छात्रा ने नींद की ज्यादा गोलियां खा लीं। जिससे उसकी हालत बिगड़ी और वह बेहोश होकर गिर पड़ी। इसके बाद घर पहुंचे परिजनों ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसका इलाज चल रहा है। पूरे मामले पर एडिशनल एसपी ग्रामीण बृजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि परिजनों की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज कर दी गई। आरोपित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Related Articles

Back to top button