80 लाख के गांजे के साथ फतेहपुर में ट्रक सवार तस्कर (Smuggler) गिरफ्तार

लखनऊ: उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (UP STF) ने फतेहपुर के थरियांव क्षेत्र से कण्टेनर ट्रक सवार तस्कर को गिरफ्तार कर लिया। तस्करों कपास से एसटीएफ (STF) ने 320 किलो ग्राम गांजा बरामद किया, जिसका अनुमानित मूल्य लगभग 80 लाख रूपये है।

एसटीएफ (STF) की टीम से नहीं बचे तस्कर

एसटीएफ (STF) प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि, “एसटीएफ की टीम सूचना मिलते ही हरकत में आई। सूचना के आधार पर फतेहपुर जिले के थरियांव इलाके में हसवा चौराहे के पास तस्कर (Smuggler) को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही उसके कब्जे से 320 किलो गांजा भी बरामद कर लिया है। तस्कर (Smuggler) धीरेन्द्र यादव उर्फ जितेन्द्र यादव बरेली का रहने वाला है।

पहले से थी गिरोह के सक्रिय होने की सूचना

उन्होंने बताया कि काफी दिनों से एसटीएफ (STF) को सूचना मिल रही थी की प्रदेश के विभिन्न जिलों में मादक पदार्थ की तस्करी करने वाले गिरोह के सदस्य सक्रिय हैं। इस सम्बन्ध लखनऊ एसटीएफ (STF) के पुलिस उपाधीक्षक लाल प्रताप सिंह के नेतृत्व में अभिसूचना संकलन की कार्यवाही की जा रही थी।

सूचना संकलन के दौरान एसटीएफ (STF) को मुखबिर से सूचना मिली कि एक कण्टेनर ट्रक में भारी मात्रा में गांजा भुवनेश्वर उड़ीसा से हरियाणा जायेगा। सूचना पर निरीक्षक अंजनी तिवारी के नेतृत्व में एक टीम गठित कर नाॅरकोटिक्स कण्ट्रोल ब्यूरो के अधिकारियों के साथ फतेहपुर के थाना थरियांव इलाके में हसवा चौराहे के पास से ट्रक सवार तस्कर को गिरफ्तार कर लिया गया। तस्कर के कब्जे से 320 किलो गांजा बरामद किया गया।

पूछताछ में तस्कर (Smuggler) ने बताई पूरी सच्चाई

प्रवक्ता ने बताया कि पूछताछ पर गिरफ्तार तस्कर ने बताया कि अरूण वत्स उर्फ आशू निवासी हरियाणा ट्रान्सपोर्ट का काम करता है, जिसके ट्रान्सपोर्ट में बरामद कण्टेनर ट्रक चलती है।

हरियाणा पहुंचकर यह गांजा अरूण वत्स उर्फ आशू को दिया जाता। उसके बाद आशु अपने स्तर से लोगों को सप्लाई करता। इस सिलसिले में गिरफ्तार आरोपी के विरूद्ध नारकोटिक्स कण्ट्रोल ब्यूरो लखनऊ द्वारा एनडीपीएस एक्ट में मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

यह भी पढ़ें: 

Related Articles