अमेरिकी चुनावः ट्रंप ने भारत और रूस पर साधा निशाना, भारत की खराब हवा को बनाया चुनावी मुद्दा

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनावों के करीब आने के साथ-साथ चुनावी सरगर्मी भी तेज हो गयी है।

नई दिल्लीः अमेरिका में राष्ट्रपति चुनावों के करीब आने के साथ-साथ चुनावी सरगर्मी भी तेज हो गयी है। वहीं डोनाल्ड ट्रंप और जो बिडेन के आरोप-प्रत्यारोप के सिलसिले में अमेरिकी राष्ट्रपति ने भारत और रूस पर जमकर निशाना साधा है।

दरअसल अमेरिका की दोनों दिग्गज पार्टियों के उम्मीदवारों डोनाल्ड ट्रंप और जो बिडेन के बीच प्रेसिडेंशियल डिबेट का आयोजन किया गया था। इस डिबेट के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने चुनावी हित साधते हुए रूस, चीन और भारत की जहरीली हवा को आगामी चुनावों के मसला बना दिया है।

इस डिबेट के दौरान ट्रंप ने अपने प्रतिद्वंदी और डेमोक्रटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बिडेन को जवाब देते हुए कहा कि, “रूस, चीन और भारत को देखो। इन देशों में हवा की गुणवत्ता कितनी खराब है। वहीं अमेरिका ने हमेशा हवा की गुणवत्ता बनाए रखने पर जोर दिया है। यही कारण है कि अमेरिका ने अपने अरबो डॉलर बचाते हुए पैरिस समझौते से अपना नाम वापस ले लिया था।”

इस दौरान ट्रंप ने कहा कि, “पेरिस समझौते में अमेरिका के साथ गलत बरताव हो रहा था और इस समझौते की वजह से मैं लाखों नौकरियों और हजारों कंपनियों का बलिदान नहीं करूंगा, क्योंकि यह गलत है।”

गौरतलब है कि, अमूमन डिबेट शुरू होने से पहले दोनों नेता एक-दूसरे का गर्मजोशी से स्वागत करते हैं। लेकिन कोरोना वायरस के चलते इस बार दोनों नेताओं ने दूरी बना रखी थी।

Related Articles