वाईस प्रेसिडेंट वेंकैया नायडू के अकाउंट से ‘ब्लू टिक’ हटाने पर Twitter ने दी सफाई

नई दिल्ली: Twitter ने देश के वाईस प्रेसिडेंट एम वेंकैया नायडू के Twitter account से वेरिफिकेशन का ब्लू टिक हटा दिया था, जिसे बाद में ट्विटर पर छिडे बवाल के बाद अब रिस्टोर कर दिया है. ट्विटर ने इस कृत के लिए जो दलील दी वो गले से उतरने वाली नहीं है. Twitter ने वाईस प्रेसिडेंट एम वेंकैया नायडू के खाते  से ब्लू टिक हटाने की बात को स्वीकार करते हुए कहा की उनका ट्विटर अकाउंट पिछले 6 महीने से प्रयोग में नहीं था. जिस दौरान एक भी ट्वीट नहीं किये गए.

हैरत की बात ये हैं की इसके लिए ट्विटर ने न तो देश के  वाईस प्रेसिडेंट कार्यालय में संपर्क किया , न ही इसकी सूचना उनके सचिवालय में दी. न ही ये पूछना जरुरी समझा की की उनका Twitter account पिछले 6 महीने से प्रयोग नहीं किया गया है. नियामत: हमे कार्रवाई करनी होगी क्या हम ऐसा कर सकते हैं. बिना इन सबके शनिवार सुबह उनके खाते से वेरिफिकेशन का ब्लू बैज हटा दिया. ट्विटर पर भारतीय नागरिकों ने इस कार्रर्वाई का पुरजोर विरोध किया जिसके कुछ देर बात ट्विटर ने वाईस प्रेसिडेंट एम वेंकैया नायडू के खाते पर वेरिफिकेशन का ब्लू टिक रिस्टोर कर दिया.

राष्ट्रिय स्वयं सेवक संघ के शीर्ष पदाधिकरियों के शीर्ष अधिकारियों के निजी हैंडल को भी खातों को भी Twitter ने अनवेरीफाइड किया हैं. इस खबर को लेकर लोगों ने कंपनी के खिलाफ नाराजगी जाहिर की थी. यूजर्स ने कहा कि यह लोकतंत्र पर हमला है. इसके बाद कंपनी ने 10 घंटे के भीतर ही फिर से पहले की तरह सेवा बहाल कर दी है.

बता दें Twitter ने RSS के सह-सरकार्यवाह (ज्वाइंट जनरल सेक्रेटरी) अरुण कुमार, संघ के वरिष्ठ पदाधिकारी सुरेश जोशी, संघ के वरिष्ठ पदाधिकारी सुरेश सोनी समेत अन्य नेताओं के पर्सनल हैंडल से वेरिफिकेशन हटा दिया है.\

वाईस प्रेसिडेंट वेंकैया नायडू के अकाउंट से 'ब्लू टिक' हटाने पर Twitter ने दी सफाई

ये भी पढ़ें : Nigeria Twitter : राष्ट्रपति के ट्वीट को हटाने के बाद नाइजीरिया ने Twitter पर लगाया बैन

Related Articles

Back to top button