सीएम योगी आदित्यनाथ को बम से उड़ाने की धमकी देने वाले दो सगे भाई गिरफ्तार, मोबाइल फोन बरामद

गोंडा: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास सहित लखनऊ में 50 भवनों को बम विस्फोट करके उड़ाने की धमकी देने वाले दो सगे भाइयों को गोंडा पुलिस ने रविवार को छपिया से गिरफ्तार किया है. पुलिस अधीक्षक राज करन नैयर ने संवाददाताओं को बताया कि शनिवार को राजधानी स्थित डायल 112 मुख्यालय पर एक संदेश प्राप्त हुआ था, जिसमें मुख्यालय के आवास समेत राजधानी के 50 भवनों को विस्फोट कर उड़ाने की धमकी दी गई थी, जांच में संदेश प्रेषित करने वाला मोबाइल नम्बर जिले के छपिया थाना क्षेत्र के टीकर का निकला.

राज करन ने बताया कि इस सम्बंध में लखनऊ के पुलिस आयुक्त से प्राप्त सूचना के आधार पर जिला पुलिस की विभिन्न शाखाओं ने संयुक्त छानबीन करते हुए स्वदेश गौड़ उर्फ राजा बाबू और मनीष को गिरफ्तार किया है. नैयर ने बताया कि पूछताछ के दौरान राजा बाबू ने स्वीकार किया कि उसने अपने मोबाइल से यह संदेश भेजा था जिसकी पुष्टि तकनीकी जांच में भी हुई है. पुलिस अधीक्षक के अनुसार राजा बाबू के भाई मनीष को साक्ष्य मिटाने के आरोपों में गिरफ्तार किया गया है क्योंकि उसने मोबाइल को तोड़कर साक्ष्यों को मिटाने का प्रयास किया था.

पुलिस अधीक्षक राज करन नैयर ने कहा कि अब तक की छानबीन के आधार पर सामने आया है कि इस बार आपसी रंजिश के चलते राजा ने गांव के कुछ लोगों को फंसाने के उद्देश्य से इस प्रकार का धमकी भर संदेश भेजा था. पुलिस ने उसकी निशानदेही पर मोबाइल फोन बरामद कर लिया है.

बता दें कि, पहले 22 मई को भी सीएम योगी को जान से मारने की धमकी दी गई थी. जिसके बाद आरोपी कामरान अमीन को मुंबई के चूनाभट्टी इलाके से गिरफ्तार कर लिया गया था. इसके बाद एसटीएफ उसे ट्रांजिट रिमांड पर लेकर लखनऊ आ गई थी. इस संबंध में गोमती नगर थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई थी. इसी मामले में बाद में एक और युवक को नासिक (महाराष्ट्र) से गिरफ्तार किया गया था. सैयद मोहम्मद फैसल नाम के इस युवक ने कामरान अमीन को न छोड़ने पर पुलिस को गंभीर अंजाम भुगतने की धमकी दी थी. फैसल मूलरूप से यूपी के बस्ती जिले का रहने वाला है.

Related Articles