पंजाबः दो दलित लोगों के हाथ पैर काटे, एक की मौत

Murder-logo1

पंजाब में एक दिल दहलाने वाली घटना को अंजाम दिया गया है। पंजाब के अबोहर में एक दलित समुदाय के दो लोगों के हाथ पांव काटे जाने से माहौल तनावग्रस्त हो गया है। आरोप है कि इस घटना को अंजाम देने में अकाली दल के एक नेता शिवलाल डोडा और उसने भतीजे का हाथ है। इस मामले को लेकर संसद में जोरदार बहस छिड़ी है।

समझौते के बहाने बुलाया
पुलिस ने बताया कि उन दोनों दलितों की पहचान भीम टाक और गुरजंत सिंह के रूप में की गई है जो व्यापारी शिवलाल डोडा के साथ काम करते थे। युवकों को समझौता करने के लिए फार्म हाउस लाया गया था। तभी मौके पर उन्होंने भीम के हाथ पैर काट दिए और दूसरे दलित का भी कंधा व पैर बुरी तरह काट दिए। इस घटना को अंजाम देने के बाद दोषी फरार हो गए। पुलिस ने भी यह भी बताया कि इनकी संख्या 8 से 10 के बीच थी।

मौके पर हुई एक की मौत
इस घटना में जहां भीम टाक की मौके पर ही मौत हो गई, वहीं गुरजंत सिंह अस्पताल में जिंदगी की लड़ाई लड़ रहा है। पुलिस ने अकाली नेता शिवलाल डोडा और उनके भतीजे समेत 11 लोगों के ख़िलाफ़ एफआईआर दर्ज कर ली है, लेकिन अब तक किसी को गिरफ्तार नहीं की गई है।

पंजाब सरकार को बर्खास्त करने की मांग
सोमवार को राज्यसभा में हंगामा हुआ और कांग्रेस ने पंजाब सरकार को बर्खास्त करने की मांग की। दलित समुदाय के दो लोगों के हाथ-पांव काटे जाने की घटना के संबध में नेशनल कमीशन फॉर शेड्यूल कास्ट ने बठिंडा जोन के आईजीपी, डिप्टी कमिश्नर फजिल्का और एसएसपी को नोटिस जारी कर सोमवार को अबोहर में दोपहर से पहले कमीशन के सामने पेश होने का आदेश दिया है।

3 दिन में हो गिरफ्तारी
पुलिस को 3 दिन के भीतर इस घटना के पीछे जिम्मेदार लोगों को गिरफ्तार करने का आदेश दिया है। पंजाब के अबोहर में दलित समुदाय के दो लोगों के हाथ-पैर काटे जाने के बाद से स्थिति तनावपूर्ण हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button