मकान में आग लगने से मां के साथ दो बेटियां जिंदा जलीं,तीन बेटियों समेत चार गंभीर

0

चंडीगढ़: में हिसार के भैरी अकबरपुर गांव की ढाणियों में बने मकान में शुक्रवार रात करीब दो बजे अचानक आग लग गई। हादसे में मां और दो बेटियां जिंदा जल गईं, जबकि चार लोग गंभीर रूप से झुलस गए। झुलसे लोगों को हिसार के अलग-अलग अस्पतालों में दाखिल कराया गया है। घटना के समय मकान में दो भाइयों के परिवार के 11 सदस्य सोए हुए थे। बताया जा रहा है कि आग शॉर्टसर्किट की वजह से लगी।आग पर पानी डालने से घर में फैले करंट की वजह से भाग नहीं पाईं मां-बेटियां और जिंदा जल गईं। उधर, पुलिस मामले की जांच कर रही है। पोस्टमार्टम के बाद शवों को देर शाम परिजनों को सौंप दिया गया था, लेकिन 75 लाख मुआवजे के लिए परिजनों ने अंतिम संस्कार नहीं किया। हालांकि, एडीसी ने दो दो लाख रुपये और डीसी रेट पर नौकरी का आश्वासन दिया, लेकिन परिजन नहीं माने। देर रात तक इस मसले पर पंचायत चलती रही। इसी बीच पंचायत के हस्तक्षेप के बाद रात करीब पौने बजे अंतिम संस्कार कर दिया गया।जानकारी के अनुसार, भैरी अकबरपुर में सुभाष की ढाणी में सुरेश और प्रभु का मकान है। सुरेश और प्रभु ने मकान का रेनोवेशन हाल ही में कराया है। मकान में बिजली का काम पूरा नहीं हुआ है। शुक्रवार रात परिवार खाना खाने के बाद अलग-अलग कमरों में सो गया था। प्रभु बाहर बरामदे में सोया था। बताया जा रहा कि रात को पावर तेज आने के बाद चिंगारी निकली और लाइट चली गई।

इसी दौरान इनवर्टर चालू हो गया और चिंगारी की वजह से घर में आग लग गई। आग फैलने लगी तो सबसे पहले प्रभु की नींद टूटी। वह कुछ समझ पाता इससे पहले आग फैल चुकी थी। प्रभु ने शोर मचाया और आग बुझाने के लिए पानी लेने दौड़ा। शोर सुनकर सुरेश जाग गया और आग के बीच में से अपने बेटे रजत को निकाल कर बाहर छोड़ आया। इसके बाद दूसरे सदस्यों की जान बचाने के लिए अंदर चला गया। इसी दौरान आग पर काबू पाने के लिए प्रभु ने बाहर से पानी फेंक दिया। बताया जा रहा है कि पानी फेंकने के कारण घर में करंट दौड़ गया। करंट लगने के डर से लोग बाहर नहीं निकल पाए और आग की चपेट में आ गए। आग की चपेट में आने से सुरेश की पत्नी सुमन (37), बेटी रजनी (14) और बेटी निशा (12) जिंदा जल गईं।जबकि सुरेश (38), उनकी बेटी गीता (16) और प्रभु (42) की बेटियां आरती और पूजा गंभीर रूप से झुलस गईं। घटना की सूचना फायर ब्रिगेड को दी गई तो भूना से फायर ब्रिगेड की गाड़ी पहुंची। फतेहाबाद के एसपी दीपक सहारण ने मौके का मुआयना किया। घटनास्थल पर एफएसएल टीम ने पहुंचकर साक्ष्य जुटाए।

loading...
शेयर करें