IPL
IPL

बरेली में दो प्रेमी चढ़ गए धर्म की भेंट, शादी ना होने पर अपनाया ये रास्ता

बरेली के एसएसपी रोहित सिंह ने कहा है कि हम धोखे से जहर दिए जाने के एंगेल को भी खंगाल रहे है। उन्होंने कहा हमने दोनों की फोन कॉल को भी देखा है और इससे पता चलता है कि शादी के बाद भी दोनों एक दूसरे के संपर्क में थे।

बरेली: यूपी के बरेली में ऐसी घटना सामने आई है जिसे सुन कर आप हैरान हो जाएंगे। बरेली ( Bareilly ) में 21 साल की शादीशुदा महिला और उसके प्रेमी का शव मिलने से इलाके में हड़कंप मच गया है। इस घटना पर लोगो का कहना है कि इन दोनों ने आत्महत्या ( Suicide )  की है। दोनों के शवों के पास से चूहा मारने की दवा भी मिली है। इन दोनों का शव गांव के बाहर बनी एक पुरानी झोपड़ी में मिला है।

पुलिस के मुताबिक करीब 6 महीने पहले महिला की शादी उसके मर्ज़ी के खिलाफ कर दी गई थी। जिसके बाद से महिला नाखुश रहने लगी। अब इस मामले की जाँच कर रहे पुलिस अधिकारी ने बताया है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में ज़हर देने की सम्भावना है। दोनों के विसरा के नमूने को जाँच के लिए भेज दिया गया है। बरेली के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ( Senior superintendent of police) रोहित सिंह सजवान ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि देखने से ये पूरा मामला आत्महत्या का प्रतीत हो रहा है।

प्रेमी और प्रेमिका दोनों का परिवार इन दोनों की शादी के खिलाफ था। इसलिए लड़की के घर वालों ने लड़की की शादी अलग करवा दी थी। और अब लड़की की मौत के बाद भी लड़की के घरवालों ने किसी भी तरह का केस दर्ज नहीं करवाया है। बरेली के एसएसपी ( SSP )  रोहित सिंह ने कहा है कि हम धोखे से जहर दिए जाने के एंगेल को भी खंगाल रहे है। उन्होंने कहा हमने दोनों की फोन कॉल को भी देखा है और इससे पता चलता है कि शादी के बाद भी दोनों एक दूसरे के संपर्क में थे।

युवक के परिवार ने बताया

आस पास के लोगों ने बताया कि लड़की का प्रेमी मुस्लिम धर्म का था जिसके कारण लड़की के घरवालों ने उसकी शादी नहीं करवाई।  वही ग्राम पंचायत के आदेश पर अपने ही जाति के एक लड़के से लड़की की जबरदस्ती शादी करवाई गई थी बता दें कि होली के मौके पर लड़की अपने मायके वालों के साथ त्यौहार मनाने आई थी। लेकिन बीते मंगलवार को लड़की लापता हो गई जिसके बाद इसकी खबर फैल गई। इसके बाद जब पुलिस ने छानबीन शुरू की तो बुधवार की शाम को दोनों का शव बिना कपड़ों के मिला युवक के परिवार ने बताया कि गांव की पंचायत ने फैसला लिया था कि महिला की शादी कहीं और करा दी जाए और युवक को गाँव से बाहर निकाल दिया जाए।

यह भी पढ़े: Good Friday 2021 : क्या हुआ जब प्रभु यीशु ने त्यागे अपने प्राण, जानिए इस दिन के पीछे की कहानी

Related Articles

Back to top button