पुलवामा में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में दो आतंकवादी ढेर, एक ने किया आत्मसमर्पण

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि सुबह सुरक्षा बलों ने पुलवामा में पम्पोर के मीग लालपोरा में घिरे हुए आतंकवादियों के खिलाफ अभियान शुरू किया. सुरक्षा बल छिपे हुए आतंकवादियों की ओर बढ़ रहे थे

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले के पम्पोर में शुक्रवार को सुरक्षा बलों के घेराबंदी तथा तलाशी अभियान (कासो) के दौरान आतंकवादियों के साथ हुई मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादी मारे गये और एक ने आत्मसमर्पण कर दिया. इस दौरान एक नागरिक भी मारा गया.

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि सुबह सुरक्षा बलों ने पुलवामा में पम्पोर के मीग लालपोरा में घिरे हुए आतंकवादियों के खिलाफ अभियान शुरू किया. सुरक्षा बल छिपे हुए आतंकवादियों की ओर बढ़ रहे थे तो आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर स्वचालित हथियार से गोलीबारी शुरू कर दी. सुरक्षा बलों ने जवाबी कार्रवाई की, जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गयी. मुठभेड़ में एक आतंकवादी मारा गया. इस दौरान दो नागरिक भी घायल हो गये जिन्हें तत्काल अस्पताल में भर्ती कराया गया. घायलों में से एक नागरिक की आज सुबह इलाज के दौरान अस्पताल में मौत हो गयी. मृतक की पहचान 22 वर्षीय आबिद नबी के रूप में की गयी है.

सुरक्षाबलों ने आतंकवादियों से आत्मसर्पण करने के लिए बार-बार अपील की. एक स्थानीय आतंकवादी के परिजन मुठभेड़ स्थल में फंस गये थे और उन्होंने भी अपने लड़के से आत्मसमर्पण करने की अपील की.

इसके कुछ घंटों के बाद एक अन्य आतंकवादी ने परिवार के सदस्यों द्वारा समझाने के बाद आत्मसमर्पण कर दिया. आतंकवादी ने सुरक्षाबलों के प्रति धन्यवाद व्यक्त करते हुए कहा कि वह हाल ही में आतंकवाद में शामिल हुआ था और अब वह अपने परिजनों को शांतिपूर्ण जीवन जीना चाहता है.

इसके बाद आतंकवादियों की तरफ से फिर गोलीबारी हुई. सुरक्षाबलों के जवाबी कार्रवाई में एक आतंकवादी मारा गया. मारे गये आतंकवादियों के शव बरामद कर लिये गये. उनके पास से बड़ी मात्रा में विस्फोटक, हथियार और आपत्तिजनक समाग्री बरामद की गई. दोनों की पहचान लश्कर के आतंकवादियों के रूप में की गई है.

गत दो माह में छह आतंकवादियों ने आत्मसमर्पण किया है जो सुरक्षाबलों की एक बड़ी कामयाबी है.

यह भी पढ़े: हेमंत सरकार का बड़ा फैसला, राज्य के 20 जिलों में स्पेशल एससी-एसटी कोर्ट

Related Articles

Back to top button