राजस्थान में आंधी और आकाशीय बिजली गिरने से दो लोगो की मौत, छह घायल

0

नई दिल्ली: राजस्थान के बीकानेर जिले में सेामवार को तेज हवाओं के साथ अंधड,बारिश और ओले से आकाशीय बिजली गिरने से दस साल के मासूम सहित दो लोगों की मौत हो गई वहीं छह लोग घायल हो गए. इस आपादा में 12 मवेशियों की भी मौत हो गई.राजस्थान के जयपुर, बीकानेर, अजमेर और कोटा संभागों में सोमवार को तेज हवाओं के साथ अंधड चला।

मौसम विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि श्रीगंगानगर में 2 मिलीमीटर,उदयपुर में 1.3 मिलीमीटर, अजमेर में 0.8 मिलीमीटर बारिश और चूरू,कोटा, जयपुर में बूंदाबांदी दर्ज की गई. बीकानेर के देशनोक थाना क्षेत्र में अंधड से खेत में बने एक टिन शेड की दीवार गिर जाने से एक दस वर्षीय बच्ची की मौत हो गई जबकि छह अन्य लोग घायल हो गए. वहीं जामसर थाना क्षेत्र में आकाशीय बिजली के गिरने से भेड़ चरा रहे अजीज खां की मौके पर ही मृत्यु हो गई थी|

देशनोक के थानाधिकारी जगदीश प्रसाद ने बताया कि पलाना गांव के पास सुजासर में एक खेत में फसल काटने वाले मजदूर काम कर रहे थे. उन्होंने बताया कि तेज अंधड से बचने के लिये मजदूर एक टिनशेड के नीचे खडे थे, अचानक टिनशेड की दीवार ढह जाने से मलबे में दबने से पूजा की मौत हो गई जबकि छह अन्य मजदूर घायल हो गये, जिन्हें पीबीएम अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. बीकानेर के जिला कलैक्टर कुमार पाल गौतम ने मृतक पूजा व अजीज के परिजनों से मुलाकात कर संवेदना व्यक्त की और घायलों के शीध्र स्वास्थ्य की कामना की,

गौतम ने चिकित्सकों को घायलों का बेहतर इलाज करने तथा संबंधित उपखंड अधिकारी को मृतकों के परिजनों व घायलों को मृख्यमंत्री सहायता कोष व प्राकृतिक आपदा कोष से तत्काल आर्थिक सहयोग देने के निर्देश दिए है. सोमवार रात दिल्ली और एनसीआर में भी धूल भरी आंधी चली. कुछ इलाकों में बूंदाबांदी होने की भी खबर है. मौसम विभाग ने अगले दो से तीन दिनों तक पहाड़ी राज्यों में तेज बारिश की आशंका जताई है. मौसम विभाग के अनुसार अगले कुछ दिनों तक दिल्ली के तापमान में भी गिरावट आने की संभावना है|

 

loading...
शेयर करें