इस गांव में ‘दो गज की दूरी नहीं हैं जरुरी’, मतदाता को कोरोना का कोई भय नहीं

कोरोना की गाइडलाइंस की धज्जियां उड़ाते हुए देखने को मिला। हम बात कर रहे हैं जिला कुशीनगर के नकटहां बसडीला गांव की जहां पर लोगों के अंदर कोरोना नाम का कोई भय नहीं है।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में ग्राम सभा चुनाव का चौथा चरण जारी है। कई जगह कोरोना के गाइडलाइंस का पालन करते हुए देखा गया है तो कई जगह कोरोना की गाइडलाइंस की धज्जियां उड़ाते हुए देखने को मिला। हम बात कर रहे हैं जिला कुशीनगर के नकटहां बसडीला गांव की जहां पर लोगों के अंदर कोरोना नाम का कोई भय नहीं है।

इस गांव के बूथ का नजारा देख कर लग रहा हा कि इस गावं के मतदाता देश की खबर से बेखबर है। देश का प्रधानमंत्री दो गज की दूरी की बात करते है वहीं मतदाताओं को देखकर लग रहा है पीएम का ये नारा इन लोगों तक पहुंचा ही नही। इतना ही नहीं पुलिस कर्मचारी भी थक चुके हैं लेकिन 2 गज की दूरी बनाने में असमर्थ हैं।

नो सोशल डिस्टन्सिंग

एक महिला पुलिस कर्मचारी से बात करने के दौरान दो गज की दूरी नही बनाने का कारण पूछा गया तो महिला पुलिस की तरफ से इस सवाल का जवाब देने इंकार कर दिया गया। बूथ पर तैनात दिवान बच्चे लाल यादव ने कहा हम सोशल डिस्टन्सिंग का पालन कराने की पूरी कोशिश कर रहें हैं। लेकिन महिला मतदाता सहयोग नही कर रहीं है।

आप फोटो में देख सकते हैं कि लोग कैसे एक के ऊपर एक चढ़े हुए हैं और पुलिसकर्मी हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं हमारे पत्रकार के पूछने पर पुलिसकर्मी ने जवाब दिया कि हमारे लाख कहने के बावजूद भी यह लोग दूरी नहीं बना रहे हैं। सवाल यह है कि जिन पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगी है क्या वह कोरोना के प्रोटोकॉल को फॉलो नहीं करा सकते हैं 2 गज की दूरी नहीं बनवा सकते?

आपको बता दें कि ऐसे मामले ज्यादातर ग्रामीण क्षेत्र में देखने को मिल रहें है। ह ग्राम पंचायत चुनाव का आखरी चरण है इस चुनाव का परिणाम आने वाले 2 तारीख को घोषित कर दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: Reliance Foundation ने किया ऐलान, इस राज्य में 1 हफ़्ते के भीतर तैयार होगा 1000 बिस्तरों वाला Covid Care Center

Related Articles