मथुरा के नंदबाबा मंदिर में दो युवकों ने पढ़ी नमाज, 4 पर FIR, प्रांगण की गंगाजल से की गई शुद्धि

इस मामले में पुलिस ने 4 लोगों पर मंदिर प्रशासन की तरफ से तहरीर के बाद FIR दर्ज की है. घटना के बाद मंदिर की गंगाजल से शुद्धि की गई है.

मथुरा: मथुरा के नंदगाँव में स्थित हिन्दुओं के प्रसिद्द नंदबाबा मंदिर के प्रांगण में दो युवकों द्वारा नमाज़ पढने का मामला सामने आय है. इसकी विडियो और फोटो सोशल मीडिया पर वायरल है. इस मामले में पुलिस ने 4 लोगों पर मंदिर प्रशासन की तरफ से तहरीर के बाद FIR दर्ज की है. घटना के बाद मंदिर की गंगाजल से शुद्धि की गई है. युवकों ने मन्दिर में भीड़ कम होने की वजह से इस घटना को अंजाम दिया है. घटना 29 अक्टूबर की बताई जा रही है.

बताया जा रहा है कि मंदिर परिसर में कुल चार युवक पहुंचे थे. इन्होने अपना नाम फैजल खान, मोहम्मद चांद, नीलेश गुप्ता और आलोक बताया. इन युवकों ने खुद को हिंदू-मुस्लिम संस्कृति में विश्वास रखने वाला बताया।. मोबाइल में तमाम संत-महंतों के साथ अपनी फोटो भी दिखाई। इन्होंने मंदिर के सेवादार कान्हा गोस्वामी से दर्शन करने की अनुमति मांगी, तो उन्होंने अनुमति दे दी. जिस समय फैजल और चांद मोहम्मद नमाज पढ़ रहे थे, उनके दोस्त नीलेश गुप्ता और आलोक ने फोटो खींच ली। जिसे बाद में वायरल कर दिया.

इन धाराओं में दर्ज हुआ मामला

मथुरा के मन्दिर में हुई नमाज को लेकर देश के साधु-संतों में भारी गुस्सा है. नन्द बाबा मंदिर के सेवादार कान्हा गोस्वामी ने थाना बरसाना में धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाकर मामला दर्ज कराया है. पुलिस ने फैजल, चांद, नीलेश और आलोक पर धारा 153A , 295 और 505 में केस दर्ज किया है.

मंत्री मोहसिन रजा ने घटना को बताया माहौल बिगाड़ने की साजिश

प्रदेश सरकार के अल्पसंख्यक मंत्री मोहसिन राजा ने इस घटना पर कड़ी नाराज़गी जताई है. उन्होंने कहा कि ये प्रदेश का माहौल बिगाड़ने की साजिश है.

ये भी पढ़ें : पहले और दूसरे चरण के चुनाव प्रचार से तय होता बिहार विधानसभा का भविष्य

Related Articles

Back to top button