मंगल ग्रह पर कॉलोनी बनाने की तैयारी कर रहा UAE, लांच हो चुका है प्रोजेक्ट

0

अभी तक जहां पूरा विश्व मंगल ग्रह पर जीवन की संभावनाओं की खोज ही कर रहा है, वहीं यूनाइटेड अरब अमीरात (UAE) ने सभी अन्य देशों से एक कदम आगे बढाते हुए इस ग्रह पर शहर बसाने की योजना भी बना ली है। बताया जा रहा है कि इन दिनों UAE मंगल ग्रह पर शहर बनाने की कवायद में जुटा हुआ है। UAE ने अपने इस प्रोजेक्ट को ‘Mars 2017’ नाम दिया है। इस देश के अधिकारियों का कहना है कि आने वाले 100 वर्षों में इंसान मंगल ग्रह पर रहने लगेगा।

UAE

UAE मंगल ग्रह पर बसाएगा शहर 

मिली जानकारी के अनुसार, दुबई में यह प्रोजेक्ट लांच किया जा चुका है। प्रोजेक्ट के कर्ताधर्ता शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मख्तुम हैं। UAE ने तीन साल पहले अपनी स्पेस एजेंसी बनाई थी। शेख ने बताया कि दूसरे ग्रह पर जाकर बसना इन्सान का सबसे बड़ा सपना है। UAE इस सपने को साकार करना चाहता है। इसके लिए वह दूसरे देशों के प्रयासों में मदद करेगा।

UAE ने अपने पहले मिशन को ‘Mars hope’ नाम दिया है, जिसके तहत 2020 में एक यान मंगल पर भेजा जाएगा। यह यान मंगल ग्रह से 14 हजार मील ऊपर उड़ते हुए वहां के पर्यावरण को अध्ययन करेगा। साथ ही इसकी कामयाबी पर आगे की रणनीति तय की जाएगी।

पिछले साल अक्टूबर में स्पेसएक्स कंपनी के प्रमुख एलोन मस्क ने घोषणा की थी कि वह जल्द ही लाल ग्रह पर कुछ लोगों भेजेंगे। इसी तरह डच ऑर्गेनाइजेशन ‘मार्स वन’ भी घोषणा कर चुकी है कि हम 2027 तक मंगल ग्रह पर मानव को पहुंचा देंगे।

मार्स वन’ के सीईओ बास लेंडसडोर्प ने एक इंटरव्यू में कहा था कि हमारे कुछ एस्ट्रोनॉट 2027 तक हमेशा के लिए धरती को छोड़ देंगे। उनकी मार्स पर एक स्थायी कॉलोनी बनाने की योजना है, जो इंसानों के रहने के लिए पूरी तरह अनुकूल होगी। एक अनुमान के मुताबिक, लाल ग्रह पर जाने के लिए प्रति व्यक्ति 10 बिलियन डॉलर खर्च आएगा।

loading...
शेयर करें