बीजेपी के आगे उद्धव सरकार हुए फेल, नारायण राणे हुए पास, जानिए क्या हुआ खास

मुंबई: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर विवादित बयान देने के मामले में केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को मंगलवार दोपहर गिरफ्तार किया गया था। दिन भर से चल रहे इस सियासी नाटक का आखिरकार अंत आधी रात को हो गया है। महाड कोर्ट ने आधी रात को राणे को बडी राहत देते हुए उनकी जमानत याचिका मंजूर कर ली है।

आपको बता दें कि मंगलवार को नारायण राणे को पुलिस ने गिरफ्तार किया था, जिसके बाद उन्हें संगमेश्वर पुलिस स्टेशन से महाड के एमआईडीसी पुलिस स्टेशन में ले गई थी। इसके बाद देर रात उन्हेंं महाड कोर्ट में मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया और रात 9 बज कर 50 मिनट में नारायण राणे की जमानत पर सुनवाई शुरू हुई। महाड कोर्ट ने रात 11.15 बजे नारायण राणे की जमानत मंजूर कर ली।

रत्नागिरि में गिरफ्तारी, महाड में छुटकारा

मंगलवार दोपहर सवा तीन बजे करीब रत्नागिरी में नारायण राणे अपने जन आशीर्वाद यात्रा के कार्यक्रम के दौरान खाना खा रहे थे तो तभी रत्नागिरी पुलिस के डीसीपी उन्हें गिरफ्तार करने पहुंचे। तभी उन्होंने अपनी गिरफ्तारी को लेकर नोटीस मांगा लेकिन बिना किसी नोटीस के पुलिस उन्हें गिरफ्तार कर संगमेश्वर पुलिस स्टेशन ले गई। इसके बाद महाड पुलिस आकर उन्हें महाड के लिए रवाना हुई। जिसके बाद आधी रात को उन्हें कोर्ट से छुटकारा मिल गया है।

बीजेपी ने मनाया जश्न

नारायण राणे की जमानत की खबर मिलते ही सिंधुदुर्ग के भाजपा समर्थकों ने पटाखे फोड़ कर जश्न मनाया। नारियल फोड़ कर नारे लगाए। कुडाल में भी राणे समर्थकों ने पटाखे फोड़ कर अपनी खुशियां जाहिर कीं। महाड कोर्ट परिसर में भी जो भाजपा कार्यकर्ता जुटे हुए थे उन्होंने मिठाइयां बांट कर खुशियां मनाई और संतोष व्यक्त किया।

Related Articles