उमा भारती और दिग्विजय सिंह को खाली करने होंगे सरकारी बंगले, कोर्ट ने 1 महीने का दिया समय

भोपाल: कोर्ट के आदेश के बाद उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्रियों को अपने सरकारी बंगले खाली करने पड़े थे। अब मध्य प्रदेश की जबलपुर कोर्ट ने भी ऐसा ही फरमान सुनाया है। इसके तहत राज्य के पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकारी बंगले खाली करने होंगे। कोर्ट ने इसके लिए एक महीने का समय दिया है। इस आदेश के बाद राज्य के तीन पूर्व मुख्यमंत्रियों उमा भारती, कैलाश जोशी और दिग्विजय सिंह को अपना भोपाल स्थित बंगला खाली करना पड़ेगा।

दरअसल, मध्यप्रदेश की जबलपुर हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस हेमंतकुमार गुप्ता और जस्टिस एके श्रीवास्तव की युगलपीठ ने एक याचिका की सुनवाई करते हुए मंगलवार को पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकारी बंगला खाली करने का आदेश दिया। हाईकोर्ट के आदेश के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पूर्व मुख्यमंत्रियों के बंगलों का आवंटन रद्द कर दिया है। अब दिग्विजय सिंह, उमा भारती, कैलाश जोशी और दिग्विजय को अपने बंगले खाली करने होंगे।

फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देना चाहते हैं शिवराज?

हालांकि सूत्रों के हवाले से आई खबर के मुताबिक, सीएम शिवराज सिंह चौहान हाई कोर्ट के इस फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देने का मन बना रहे थे, लेकिन विधि विभाग के अधिकारियों ने यूपी का हवाला देते हुए उन्हें ऐसा ना करने की सलाह दी। इसके बाद शिवराज सिंह ने पूर्व मुख्यमंत्रियों के सरकारी बंगलों का आवंटन रद्द कर दिया।

Related Articles