अपने गढ़ में चाचा शिवपाल हुए अकेले, अखिलेश के ना आने से चेहरे पर दिखी शिकस्त

अभी तक अखिलेश यादव और चाचा शिवपाल यादव एक साथ मंच पर नहीं दिखे

UP में 2022 विधानसभा चुनाव से पहले सपा-प्रसपा में हुए गठबंधन के बाद अभी तक अखिलेश यादव और चाचा शिवपाल यादव एक साथ मंच पर नहीं दिखाई दिए हैं. आज कयास लगाए जा रहे थे कि अखिलेश इटावा में चाचा शिवपाल के कार्यक्रम में साथ में मंच साझा करेंगे, लेकिन यहां भी चाचा अकेले अपने बेटे आदित्य यादव के साथ नजर आए.

सपा नेताओं को मिला था न्यौता

बता दें कि आज प्रसपा प्रमुख शिवपाल यादव ने अपने विधानसभा क्षेत्र जसवंतनगर के ताखा ब्लॉक में प्रसपा का कार्यक्रम आयोजित किया है. इस कार्यक्रम में जिले के समाजवादी पार्टी के नेताओं को भी आने का न्यौता दिया गया था. विधानसभा क्षेत्र में कई जगह प्रसपा-सपा के साथ-साथ पोस्टर लगाए गए थे. मुलायम, शिवपाल और अखिलेश की साथ-साथ फोटो लगाई गई थी.

मंच पर मायूस दिखे शिवपाल यादव

शिवपाल यादव यह उम्मीद लगाए बैठे थे कि शायद अखिलेश उनके कार्यक्रम में शिरकत करेंगे, लेकिन अखिलेश को छोड़िए, जनसभा स्थल पर एक भी सपा नेता नहीं दिखाई दिया. सिर्फ 20 से 25 हजार प्रसपा कार्यकर्ता कार्यक्रम में पहुंच थे. सपा नेताओं और कार्यकर्ताओं के न पहुंचने से शिवपाल भी मायूस दिखाई दिए. उनको लगा था कि वह अपने विधानसभा क्षेत्र में सपा को अपनी ताकत का एहसास कराएंगे। ताकि गठबंधन में अधिक से अधिक सीटों पर बात बन सके.

Related Articles