बिना खाता खोले आउट हुए अर्जुन तेंदुलकर, गेंदबाजी में भी नहीं दिखा पाए कमाल

0

नई दिल्ली। कहते है कि चिराग तले अंधेरा होता हैंं। ऐसा ही कुछ क्रिकेट के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर के साथ देखने को मिला।

arjun-tendulkar

अर्जुन ने श्रीलंका के खिलाफ अंडर 19 इंटरनेशनल क्रिकेट में इंट्री की, लेकिन वे फ्लॉप हो गए। गेंदबाजी और बल्लेबाजी किसी में अपना जलवा नहीं दिखा सके। प्रशंसकों को उनके खेल से काफी निराशा हुई।

वहीं, दूसरी ओर साउथ अफ्रीका के पूर्व तेज गेंदबाज मखाया नतिनी के बेटे थांडो नतिनी अपने पिता के रास्ते कदम पर आगे बढ़ रहे हैं। पिता की तरह की तेज गेंदबाजी कर साउथ अफ्रीका अंडर 19 टीम की ओर से इंग्लैंड के खिलाफ खेलते हुए अपने पहले इंटरनेशलन मैच में गेंदबाजी से प्रशंसकों का दिल जीत लिया।

शानदार गेंदबाजी की और चार खिलाडि़यों को पवेलियन वापस भेज दिया। थांडो ने अपने पहले इंटरनेशनल मैच में आठ ओवर बॉल फेंके। इन आठ ओवरों में 2.37 की इकॉनमी रेट से मात्र 19 रन दिए और चार विकेट अपने नाम कर लिए। उनकी शानदार बल्लेबाजी की बदौलत साउथ अफ्रीका की टीम ने इस मुकाबले को 79 रन से जीत लिया।

वहीं, दूसरी ओर अर्जुन तेंदुलकर का चयन श्रीलंकाई के खिलाफ खेले जाने वाले अंडर 19 की टीम में हुआ है। 18 वर्षीय अर्जुन को 2 चार दिवसीय मैचों के लिए मुख्य खिलाड़ी के तौर पर चयन किया गया, लेकिन वे चयनकर्ताओं की उम्मीद पर खरा नहीं उतर सकें। अपने पहले इंटरनेशलन मैच में न तो वे बल्लेबाजी में कोई कमाल दिखा सकें और न हीं गेंदबाजी में शानदार प्रदर्शन किया। पहले मैच में ही वह बल्लेबाजी करते हुए बिना रन बनाए वापस पवेलिन लौट गए। विकेट भी सिर्फ एक ही लिए। हालांकि, भारतीय टीम ने बेहतर प्रदर्शन करे हुए श्रीलंकाई टीम को पारी और 21 रनों से हरा दिया।

loading...
शेयर करें