उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा की अध्यक्षता में उत्तर प्रदेश शिक्षा सेवा चयन आयोग के संबंध में बैठक आयोजित

उप मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि माध्यमिक शिक्षा तथा उच्च शिक्षा विभाग द्वारा प्रधानाचार्य और शिक्षकों के ऑनलाइन स्थानांतरण हेतु 28 जून तक पोर्टल खोल दिया जाए।

लखनऊः उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा की अध्यक्षता में आज यहां विधानसभा स्थित पारिजात कक्ष में उत्तर प्रदेश शिक्षा सेवा चयन आयोग के संबंध में उच्च शिक्षा, माध्यमिक शिक्षा तथा बेसिक शिक्षा विभाग की संयुक्त बैठक आयोजित की गई। बैठक में आयोग के गठन तथा अन्य विभिन्न बिंदुओं के संबंध में विचार विमर्श किया गया।

उप मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर निर्देश दिया कि विभिन्न आयोगों द्वारा चयनित शिक्षकों का अतिशीघ्र पदस्थापन किया जाय। उन्होंने कहा कि विभिन्न आयोग द्वारा चयनित शिक्षकों को पदस्थापन के लिए किसी भी दशा में भटकना न पड़े। इस कार्य में किसी भी दशा में लापरवाही नहीं होनी चाहिए तथा लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों को तत्काल दंडित किया जाए।

ऑनलाइन स्थानांतरण हेतु

उप मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि माध्यमिक शिक्षा तथा उच्च शिक्षा विभाग द्वारा प्रधानाचार्य और शिक्षकों के ऑनलाइन स्थानांतरण हेतु 28 जून तक पोर्टल खोल दिया जाए। उन्होंने संस्कृत अध्यापकों के रिक्त पदों पर शिक्षकों को उपलब्ध कराने हेतु तत्काल नीति निर्धारण कराए जाने का भी निर्देश दिए। डॉ शर्मा ने माध्यमिक शिक्षा विभाग को निर्देश दिया कि 10वीं एवं 12वीं बोर्ड परीक्षा के अंकपत्र जुलाई माह में जारी कर दिया जाए तथा उच्च शिक्षा विभाग स्नातक/स्नातकोत्तर में प्रवेश हेतु एक पारदर्शी नीति अपनाकर प्रवेश प्रारंभ किया जाए।

बैठक में बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री सतीश चंद्र द्विवेदी जूम ऐप के माध्यम से सम्मिलित हुए, इसके साथ ही बैठक में अपर मुख्य सचिव उच्च शिक्षा श्रीमती मोनिका एस गर्ग, अपर मुख्य सचिव माध्यमिक शिक्षा श्रीमती आराधना शुक्ला, प्रमुख सचिव उच्च शिक्षा श्री सुभाष चंद्र शर्मा, सचिव बेसिक शिक्षा श्री रणवीर प्रसाद, महानिदेशक बेसिक शिक्षा श्री विजय किरण आनंद, विशेष सचिव उच्च शिक्षा श्री योगेंद्र दत्त त्रिपाठी, विशेष सचिव माध्यमिक शिक्षा श्री जय शंकर दुबे, निदेशक बेसिक शिक्षा श्री सर्वेंद्र विक्रम सिंह, निदेशक माध्यमिक शिक्षा श्री विनय कुमार पाण्डेय तथा संयुक्त निदेशक माध्यमिक शिक्षा श्री भगवती सिंह सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें: 5वीं, 10वीं पास के लिए सुनहरा मौका, बिना परीक्षा के आंगनबाड़ी में कर सकते हैं नौकरी

Related Articles