मिशन शक्ति के तहत एक दिन के लिए छात्राएं बनीं थानेदार, पिता का काटा चालान

मैनपुरी: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यानथ ने बेटियों के सम्मान के लिए मिशन शक्ति अभियान चलाया है। इस अभियान के तहत मैनपुरी जिले में एक दिन के लिए बेटियों हुक्म चलाने का मौका दिया गया। जिसमें जिले के थानों में छात्राओं को एक दिन के लिए थानेदार बनाया गया। इस दौरान बिना मास्क के घूम रहे थानेदार बनी एक बेटी ने अपने पिता का ही चालान काट दिया। जिसको साथ में घूम रहे पुलिसकर्मी चौंक गए।

एक दिन के लिए थानेदार बनी छात्राएं

मैनपुरी जिले में योगी सरकार द्वारा चलाए गए मिशन शक्ति अभियान के तहत जिले के 14 थानों में छात्राओं को एक दिन के लिए थानेदार बनाया गया। थाना प्रभारी के रूप में छात्राओं ने जनता की शिकायतों को सुना। और इसके बाद अपने-अपने क्षेत्र में चेकिंग अभियान चलाकर कइयों का चालान काटा।

इसी दौरान थानेदार बनी एक बेटी ने खाकी का फर्ज निभाते हुए अपने पिता का चालान काटा। वह बिना मास्क के चौराहे पर घूम रहे थे। इस कार्रवाई से जहां पुलिसकर्मी हैरान रह गए, वहीं बेटी की कर्तव्यनिष्ठा से पिता को जिम्मेदारी का सबक सिखाया।

बता दें कि शहर कोतवाली में एक दिन के लिए थानेदार बनी हनी शर्मा के पिता कृष्णकांत शर्मा बस अड्डे पर बिना मास्क के घूमते नजर आए। जिससे थानेदार बनीं बेटी ने मास्क न लगाने पर पिता का चालान कर दिया। यह नजारा देख साथ चल रहे पुलिसकर्मी भी चौंक गए।

14 थानों की थानेदार बनीं छात्राएं

किशनी थाने में कस्बा निवासी महक चौहान, थाना बरनाहल में रूबी, थाना औंछा में सोनाली, बिछवां में गोल्डी यादव, थाना घिरोर में आयुषी, कुरावली थाने में कुमारी दीक्षा, थाना एलाऊ में कंचन वशिष्ठ, थाना दन्नाहार में हेमा पाल, थाना कुर्रा में पायल गुप्ता, थाना बेवर में प्रिया, थाना भोगांव में प्रेरणा मिश्रा ने थाने की कमान संभाली।

यह भी पढ़ें: कोरोना काल में श्रद्धालुओं का सहारा गीता आश्रम, चुम्बक बनी वृन्दावन की धरती

Related Articles

Back to top button