बीजेपी के बड़े मंत्री ने कहा, टीपू सुल्तान ‘हिन्दु विरोधी’ और रेपिस्ट था

0

नई दिल्ली। बीते दिनों यूपी में बीजेपी नेता ने ताजमहल पर विवादित बयान दिया था। उन्होंने ताजमहल बनवाले वाले मुगलों को गद्दार बताया था। जिसके बाद इस बयान की काफी आलोचना हुई थी। ये मामला अभी ठंडा हुआ नहीं था कि अब एक और नए विवाद ने जन्म ले लिया है। केंद्रीय कौशल विकास राज्यमंत्री अनंत कुमार हेगड़े के एक ट्वीट के बाद सियासी घमासान मचा दिया है।

राज्यमंत्री ने टीपू सुल्तान जयंती को लेकर एक विवादित बयान दिया है

दरअसल, राज्यमंत्री ने टीपू सुल्तान जयंती को लेकर एक विवादित बयान दिया है। राज्यमंत्री ने ट्वीट करके कहा है कर्नाटक सरकार टीपू सुल्तान जयंती पर मुझे ना बुलाए। उन्होंने इस ट्वीट में टीपू सुल्तान को हिन्दु विरोधी बताया है। वहीं कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा कि मंत्री को इस तरह का पत्र नहीं लिखना चाहिए।

राज्य मंत्री अनंत कुमार हेगड़े ने टीपू को बर्बर हत्यारा और रेपिस्ट बताया है

राज्य मंत्री अनंत कुमार हेगड़े ने टीपू को बर्बर हत्यारा और रेपिस्ट बताया है। उन्होंने कर्नाटक सरकार के शीर्ष अधिकारियों को पत्र लिखकर उन्हें 10 नवंबर को टीपू जयंती से जुड़े आयोजनों में शामिल नहीं करने को कहा है। उन्होंने लिखा, मैंने कर्नाटक सरकार को एक ऐसे बर्बर हत्यारे, कट्टरपंथी और दुष्कर्मी के महिमामंडन के लिए आयोजित होने वाले कार्यक्रम में मुझे नहीं बुलाने के बारे में बता दिया है।

कांग्रेस का चुनावी खेल बताया जा रहा है

साथ ही इसे कांग्रेस का चुनावी खेल बताया जा रहा है, हालांकि कांग्रेसी टीपू सुल्तान को स्वतंत्रता सेनानी बता रहे हैं। लेख में कहा गया था कि हिंदू संगठन दावा करते हैं कि टीपू धर्मनिरपेक्ष नहीं था बल्कि एक असहिष्णु और निरंकुश शासक था। वह दक्षिण का औरंगजेब था जिसने लाखों लोगों का धर्मांतरण कराया और बड़ी संख्या में मंदिरों को गिराया।

loading...
शेयर करें