कोर्ट में पेश हो सकते है केंद्रीय मंत्री नारायण राणे! बीजेपी करेंगी विरोध प्रदर्शन

मुंबई: केंद्रीय मंत्री नारायण राणे (Narayan Rane) को महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackery) के खिलाफ विवादित टिप्पणी करने के मामले में पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। नारायण राणे ने कोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दायर की थी लेकिन कोर्ट ने इसे खारिज कर दिया है।

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे विवादित टिप्पणी के मामले गिरफ्तार तो हो चुके है और अब उन्हें बुधवार को महाड़ कोर्ट में पेश किया जा सकता है। इस दौरान राणे की गिरफ्तारी से नाराज भाजपा कार्यकर्ता बुधवार को महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेगी।

विवादित टिप्पणी करना पड़ा भारी

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के खिलाफ राणे को विवादित टिप्पणी करना भारी पड़ गया है, अब उनके खिलाफ प्राथमिकी रद्द करने की मांग की याचिका कल बॉम्बे हाईकोर्ट में दायर की जाएगी। उनके वकील के मुताबिक, अदालत के आधिकारिक घंटे खत्म होने के कारण आज याचिका दायर नहीं की जा सकी। राणे की याचिका पर तत्काल सुनवाई की याचिका दायर की गई है।

ये दिया था बयान

केंद्रीय मंत्री राणे ने रायगढ़ जिले में सोमवार को जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान कथित तौर पर कहा, ‘यह शर्मनाक है कि मुख्यमंत्री को यह नहीं पता कि आजादी को कितने साल हो गए हैं। भाषण के दौरान वह पीछे मुड़ कर इस बारे में पूछते नजर आए थे। अगर मैं वहां होता तो उन्हें एक जोरदार थप्पड़ मारता।’

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री का बयान

इस मामले में महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का कहना है कि, हम उद्धव ठाकरे को लेकर दिए गए राणे के बयान का समर्थन नहीं करते हैं लेकिन मैं एक व्यक्ति के तौर पर हमारी पार्टी उनके साथ खड़ी है। शर्जील उस्मानी ने भारत माता को गाली दी थी लेकिन उस पर कोई एफआईआर दर्ज नहीं की गई लेकिन राज्य सरकार ने नारायण राणे के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली।

Related Articles