IPL
IPL

कोरोना मरीज के बढ़ते ग्राफ पर University की सख्ती, चले जाएं घर या…

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में कोरोना से हालात बेकाबू होते जा रहे है। रोजाना यहां संक्रमितों की संख्या में इजाफा हो रहा है। यूपी में पिछले 24 घंटो में 3999 नए केस सामने आए है। वहीं राज्य के सभी जिलों को छोड़ कर बात करें तो राजधानी लखनऊ में रोजाना तेजी से संक्रमण बढ़ रहा है, पिछले 24 घंटे में 1133 नए केस सामने आए है। शहर में बढ़ते संक्रमण की वजह से सतर्कता बरतने के लिए लखनऊ विश्वविद्यालय (Lucknow University) ने कड़े नियम बना दिए है। विश्वविद्यालय (University) के नए नियम के मुताबिक, छात्रावास में रहने वाले छात्र-छात्राएं बिना प्रोवोस्ट की अनुमति के बाहर नहीं आ जा सकेंगे।

छात्रावास में जारी कड़े निर्देश

चीफ प्रोवोस्ट प्रो. नलिनी पांडेय ने सोमवार पांच अप्रैल को इसका एक नोटिफिकेशन जारी किया है। इस नोटिफिकेशन में डेट तो सही पड़ी है लेकिन मिस प्रिंट हो गया है मार्च महीने का। नलिनी पांडेय ने ने बताया है कि भूल वश गलत महीना पड़ गया है लेकिन ये नोटिफिकेशन सोमवार पांच अप्रैल को जारी करते हुए लखनऊ विश्वविद्यालय के छात्रावास में रहने वाले छात्र-छात्रों से कहा गया है कि प्रोवोस्ट की अनुमति के बिना बाहर नहीं जा सकेंगे। विशेष परिस्थिति में ही उन्हें जाने की अनुमति दी जाएगी। इसके अलावा जो छात्र घर जाना चाहते है वे जा सकते हैं। छात्रों की पढ़ाई आनलाइन ही होगी।

ये भी पढ़ें : जानिए corona की दूसरी लहर से जहाँ सब हैं बेबस वहीँ IT सेक्टर इतना खुश क्यों है ?

सुरक्षा की दृष्टि से जारी निर्देश

प्रो. नलिनी पांडेय ने बताया है कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए विश्वविद्यालय ने सुरक्षा की दृष्टि से यह निर्देश जारी किया हैं। शहर में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को देखते हुए छात्रावास के छात्रों से कहा गया है कि वे घर पर ही रहें। आफलाइन कक्षाएं शुरू होने तक छात्रावास में वापस न लौटें। इसके अलावा ये भी कहा है कि जो विद्यार्थी छात्रावास में रुके हुए है अगर वे जाना चाहें तो अपने घर जा सकते है। जो छात्र यहां रुकेंगे उन्हें आपातकालीन स्थिति के अलावा बाहर निकलने की अनुमति नहीं दी जाएगी। आपको बता दें कि लविवि में पिछले कई दिनों में अब तक 14 शिक्षक व एक अधिकारी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं।

ये भी पढ़ें : Home मिनिस्टर की इस हरकत का क्या होगा महाविकास अघाड़ी पर असर ?

 

 

Related Articles

Back to top button