उन्नाव रेप कांड में बीजेपी नेता के ट्वीट से मचा हडकंप, किया चौकाने वाला खुलासा

लखनऊ। उन्नाव रेप मामले में अब सीबीआई जांच करेगी। प्रदेश के प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार और डीजीपी ने साफ़ कहा है कि सीबीआई के जांच के बाद ही विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की गिरफ्तारी होगी। वहीं इससे पहले बीजेपी विधायक आईपी सिंह के ट्वीट ने हंगामा मचा दिया है।  कुलदीप सिंह सेंगर

उन्होंने अपने ट्वीटर हैंडल पर लिखा कि ममला सामने आने के बाद मुख्यमंत्री ने कुलदीप सेंगर को गिरफ्तार करने का फैसला ले लिया था। सीएम कार्यालय में उनकी गिरफ्तारी होती उससे पहले ही एक बड़े नेता के हस्तक्षेप ककी वजह से ये फैसला अमल में नहीं लायेगा। जिसका खामियाजा पूरी पार्टी ने भुगता। हालांकि ये एक बड़े नेता कौन हैं, आईपी सिंह ने इसका खुलासा नहीं किया।

https://twitter.com/ipsinghbjp/status/984130758926364682

वहीं आईपी सिंह के ट्वीट पर कोई नेता बोलने को तैयार नहीं है। बीजेपी प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा कि फिलहाल आई पी सिंह किसी पद पर नहीं हैं। हम एक कार्यकर्त्ता जरुर हैं। मुख्यमंत्री क्या फैसला लेते हैं क्या करते हैं ये उन्हें बता कर नहीं करेंगे और न ही उन्हें जानने का अधिकार है। उन्हें आईपी सिंह को बताने की जरूरत नहीं है। आईपी सिंह दावा पूरी तरह से मनगढ़ंत है। उनका व्यक्तिगत मत है। उत्तर प्रदेश में कानून का राज है, यहां किसी का भी दबाव कानून के आड़े नहीं आता।”

वहीं गुरुवार सुबह प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार और डीजीपी की संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस कर इस मामले में सफाई दी। उन्होंने कहा कि इस मामले कि निष्पक्ष जांच की जा रही है। पुलिस किसी को बचाने की कोशिश नहीं कर रही हैं। उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश है कि हमारी कोशिश है कि दोनों पक्षों को सुनकर कार्रवाई हो रही है। सभी मामले सीबीआई को ट्रांसफर किए जा रहे हैं। अब सीबीआई को फैसला करना है कि विधायक की गिरफ्तारी करनी है या नहीं।

आपको बता दें कि कल शाम एसआईटी ने अपनी जांच रिपोर्ट सीएम को सौंप दी जिसके बाद आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के खिलाफ आईपीसी की धारा 363 (अपहरण), 366 (अपहरण कर शादी के लिए दवाब डालना), 376 (बलात्‍कार), 506(धमकाना) और पॉस्‍को एक्‍ट के तहत मामला दर्ज किया है। वहीँ योगी सरकार ने इस मामले की जांच सीबीआई से भी कराने का फैसला किया है।

Related Articles