उन्नाव कांड: पुलिस ने दर्ज की एफआईआर, पीड़ित पिता ने लिखी ये बात

उन्नाव: उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले (Unnao) के असोहा थाना क्षेत्र में बीते बुधवार को तीन लड़कियां खेत में संदिग्ध हालत में पाईं गईं। परिवार का दावा है कि लड़कियों के हाथ और पैर बांधे गए थे। इनमे से बुआ-भतीजी की मौत हो चुकी है और तीसरी चचेरी बहन की हालत अभी भी गंभीर है। उन्नाव (Unnao)में हुई इस घटना से हर कोई दुखी है। तीसरी लड़की कानपुर के रिजेंसी अस्पताल में जिंदगी की जंग लड़ रही है। विपक्ष इस मामले में लड़की को दिल्ली एयरलिफ्ट करने की मांग कर रहा है। लड़की के पिता ने असोहा थाने में एफआईआर दर्ज कराई है।

पीड़ित पिता ने एफआईआर में लिखी यह बात

पीड़ित पिता ने थाने में गुरुवार को अज्ञात के खिलाफ हत्या और सबूत छिपाने की कोशिश के आरोप में एफआईआर दर्ज कराया है। मृतका के पिता ने तहरीर में लिखा है कि घटनास्थल पर मृतका और उसकी भतीजी के गले में दुपट्टा लिपटा हुआ मिला था और उनके मुंह से झाग निकल रहा था। पीड़ित पिता की तहरीर पर पुलिस ने आईपीसी की धारा 302 (हत्या), 201 (साक्ष्य मिटाने) के तहत अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

ये भी पढ़ें : शिक्षिका को मारने के बाद युवक ने खुद को मारी गोली

सीएम ने डीजीपी से मांगी रिपोर्ट

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना से बेहद दुखी है और उन्होंने ट्वीट कर कहा ‘जनपद उन्नाव की घटना अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है। इसके अलावा उन्होंने डीजीपी एचसी अवस्थी को प्रकरण की पूरी रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दे दिए हैं। कानपूर के अस्पताल में भर्ती पीड़िता का सरकारी व्यय पर बेहतर से बेहतर एवं नि:शुल्क इलाज करने के निर्देश दिए है।

ये भी पढ़ें : महाराष्ट्र में फिर हालत बेकाबू, कोरोना के मरीज बढ़ते ही लग गया वीकेंड लॉकडाउन

पीएम रिपोर्ट

असोहा थाना क्षेत्र में मृतक दोनों लड़कियों के शव का पोस्टमार्टम हो चुका है और इसकी रिपोर्ट भी आ गई है। इस रिपोर्ट में जहरीला पदार्थ मिलने की पुष्टि हुई है। डॉक्टर्स ने शरीर से मिले जहरीले पदार्थ के सैंपल को लैब में जांच के लिये भेज दिया है। पोस्टमार्टम पूरा होने के बाद देर शाम बुआ-भतीजी के शवों को भारी सुरक्षा के बीच गांव ले जाया गया।

 

Related Articles

Back to top button