उन्नाव कांडः दूसरा नाबालिग आरोपी भी निकला बालिग, 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा जेल

उन्नावः असोहा कांड मे 2 बेटियों की हत्या मामले में खुलासे के 24 घंटे बाद एक नया मोड़ सामने आ गया है। पुलिस की जांच में एक बड़ी चूक निकल कर सामने आई है। जिस दूसरे आरोपी को शुक्रवार को खुलासे में आईजी रेंज लक्ष्मी सिंह ने नाबालिग (Minor) करार दिया था, शनिवार शाम को पुलिस ने जब दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया, तो नाबालिग (Minor) आरोपी की उम्र आधार कार्ड के हिसाब से 19 साल होने का तर्क देकर बालिग बताया गया है। वहीं कोर्ट ने दोनों आरोपियों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। आरोपियों को पेश करने के दौरान कोर्ट में पुलिस का कड़ा पहरा रहा। वहीं 24 घंटे में नाबालिग के बालिग होने का मामले में तरह तरह की चर्चाएं तेज हो गई हैं।

आईजी ने आरोपी को बताया था Minor

उन्नाव के असोहा कांड में 2 बेटियों की हत्या मामले में खुलासे के 24 घंटे बाद एक नया मोड़ सामने आ गया है। शुक्रवार शाम को पूरे मामले का आईजी रेंज लक्ष्मी सिंह ने असोहा थाना में खुलासा किया था। प्रेस कॉन्फ्रेंस में साजिश का मुख्य आरोपी विनय उर्फ लंबू को बताने के साथ ही उसके दोस्त को नाबालिग बताया था।

कड़ी सुरक्षा के बीच कोर्ट में पेशी

शनिवार शाम करीब 4 बजे असोहा पुलिस कड़ी सुरक्षा व्यवस्था में हत्याकांड के दोनों आरोपियों को जिला न्यायालय परिसर में बने सीजेएम कोर्ट में मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया। जहां असोहा पुलिस ने नाबालिग आरोपी बताए जा रहे युवक की आधार कार्ड के हिसाब से उम्र 19 साल एक महीने हो गई है। जिसके आधार पर सचिन को भी बालिग मानते हुए मजिस्ट्रेट ने सरकारी वकील की बहस के बाद दोनों को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। कोर्ट में पेशी के दौरान सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त रहे।

यह भी पढ़ें: किसानों की आवाज उठाना अगर राजद्रोह है तो मुझे जेल में ही रहने दो: दिशा रवि

Related Articles

Back to top button