उन्नाव: दोनों मृतक लड़कियों का कड़ी सुरक्षा में हुआ अंतिम संस्कार

पोस्टमार्टम के बाद मृत मिली दो लड़कियों का आज शुक्रवार को सुबह कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच अंतिम संस्कार कर दिया गया।

उन्नाव: उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले के असोहाथाना छेत्र के बबुरहा गांव के बाहर 17 फरवरी को संदिग्ध परिस्थितियों में 3 किशोरियां संदिग्ध अवस्था में पाई गई। जिसके बाद उन्हें अस्पताल पहुँचाया गया और फिर डॉक्टर्स ने 2 लड़कियों को मृत घोषित कर दिया। पोस्टमार्टम के बाद मृत मिली दो लड़कियों का आज शुक्रवार को सुबह कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच अंतिम संस्कार कर दिया गया।

मिली 3 लड़कियों में ज़िंदा बची हुई एक लड़की का अस्‍पताल में इलाज चल रहा है। जिसकी हालत काफी गंभीर है और वह ज़िन्दगी मौत के बीच जंग लड़ रही है। आज वहीं, जांच के लिए पहुंचे डॉग स्‍क्‍वाड और फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी टीम ( Forensic Science Laboratory ) ने घटनास्‍थल का निरीक्षण किया है। अभी तक जाँच में कोई सुराग हाथ नहीं लग पाया है।

ज़हर से हुई थी लड़कियों की मौत
ज़हर से हुई थी लड़कियों की मौत

क्या है मामला ?

आपको बतादें कि ताज़ा मामला उन्नाव का है बुधवार रात तीन नाबालिग दलित लड़कियां खेत में दुपट्टे से बंधी पड़ी मिलीं। इनमें दो लड़कियों की मौत हो चुकी है जबकि तीसरी अस्पताल में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रही है। दोनों मृतक दलित नाबालिग लड़कियों का पोस्टमार्टम हो चुका है। पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर्स का कहना है कि दोनों लड़कियों की मौत जहरीला पदार्थ खाने से हुई है। दोनों ने मौत से करीब 6 घंटे पहले खाना खाया था। इनके पेट में 100 से लेकर 80 ग्राम तक खाना मिला है। डॉक्टर्स का कहना है कि खाने में जहर होने की वजह से मौत हुई है।

यह भी पढ़े: बाबा राम देव ने एक बार फिर कहा, कोरोनिल है कोरोना ( Covid-19 ) की असली दवा

Related Articles

Back to top button