UP Board 12th Exam 2021: यूपी बोर्ड 12वीं की परीक्षा रद्द, यह है Option

योगी सरकार ने यूपी बोर्ड की कक्षा 12वीं की परीक्षा को रद्द कर दिया है। डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने बताया विकल्प

लखनऊ: योगी सरकार ने यूपी बोर्ड की कक्षा 12वीं की परीक्षा (UP Board 12th Exam)  को रद्द कर दिया है। डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा (Dinesh Sharma) ने राज्य सरकार के इस फैसले के बारे में जानकारी दी है।

डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने बताया कि 12वीं कक्षा के लिए 10वीं और 11वीं के अंक के औसत का अंकन अंकपत्र में होगा। अगर 11वीं की परीक्षा नहीं दी होगी तो जो 12वीं में जो प्री बोर्ड हुआ है उसे जोड़कर अंकन होगा। 11वीं के अंक नहीं हैं तो 10वीं और प्री बोर्ड का अंक फिर जुड़ेगा।

दोनो नहीं है तो सामान्य प्रमोशन की बात करेंगे। अगर विद्यार्थी अपने अंक बढ़ाना चाहता है तो उसके पास विकल्प होगा कि 1, 2, 3 या सभी में परीक्षा देकर अपना अंक बढ़वा सकता है। ये विशेष छूट हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के विद्यार्थियों को होगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने ट्वीट कर कहा, कोविड महामारी की वर्तमान परिस्थितियों के दृष्टिगत बच्चों की स्वास्थ्य सुरक्षा हमारी शीर्ष प्राथमिकता है। आदरणीय प्रधानमंत्री जी की प्रेरणा से यूपी सरकार ने निर्णय लिया है कि वर्तमान शैक्षिक सत्र में माध्यमिक शिक्षा परिषद की 10वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षा का आयोजन नहीं किया जाएगा।

उच्च स्तरीय बैठक में फैसला

आपकी जानकारी के लिए यह बता दें कि 1 जून को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उच्च स्तरीय बैठक में यह बड़ा फैसला किया गया था। बैठक में सीबीएसई बोर्ड (CBSE Board) की 12वीं की परीक्षा रद्द करने पर सहमति बनी थी। बैठक में यह भी सहमति बनी थी कि पिछले साल की तरह इस साल भी अगर कुछ छात्र परीक्षा देने की इच्छा रखते हैं तो कोरोना संक्रमण की स्थिति अनुकूल होने पर CBSE  द्वारा उन्हें परीक्षा में बैठने का सुझाव प्रदान किया जाएगा।

यह भी पढ़ेभीख मांगने वाली एक बूढ़ी महिला की झोपड़ी से मिला पैसों का खजाना, लिफाफों में बंद नोट

Related Articles