UP Budget 2021: अखिलेश ने कहा, ‘खेल खतम पैसा हजम’

प्रयागराज: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने अपने कार्यकाल का आखिरी बजट पेश कर दिया है। योगी सरकार के इस बजट पर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने निशाना साधा है। अखिलेश ने कहा कि योगी आदित्यनाथ सरकार का पेश यह पांचवा और अखिरी बजट था। अब इसके बाद उन्हें चाहकर भी ऐसा अवसर मिलने वाला नहीं है। इसका मतलब है कि खेल खतम पैसा हजम।

अखिलेश यादव ने कहा कि यह बजट आम लोगों को धोखा देने वाला है। इसमें गरीब, बेरोजगार और किसानों के लिए कुछ नहीं है, केवल उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाया गया है। किसान धरना प्रदर्शन कर रहा है लेकिन सरकार उनकी नहीं सुन रही है। सरकार केवल जाति, धर्म और द्वेष फैलाकर अपनी राजनीति कर रही है। लोगों को मूल मुद्दो से भटकाने के लिए जाति और धर्म के मामलों में उलझा कर रख दिया है।

‘सरकार ने लोगों को रोजगार नहीं दिया’

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रोजगार को लेकर सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि “भाजपा सरकार ने लोगों के लिए नौकरी, रोजगार की कोई व्यवस्था नहीं बनाई। लोग बेरोजगार हो घूम रहे हैं। नौकरियां भी लोगों की समाप्त कर दी गई। ये सरकार हमें-आपको नहीं छेडेगी। ये सरकार जब गंगा मां की नहीं हुई तो हमारी-आपकी क्या होगी। गंगा साफ नहीं हुई बल्कि गंगा सफाई का बजट साफ हो गया।

‘भाईचारा खत्म कर नफरत फैसलाई जा रही’

अखिलेश यादव ने कहा कि सरकार लोगों के बीच से भाईचारा खत्म कर लोगों में नफरत के बीज बो रही है। जनता अब समझ चुकी है। वह समाजवादी पार्टी की ओर देख रही है। जो नेता दूसरी पार्टियों को छोड़कर भाजपा में शामिल हुए हैं, 2022 चुनाव से पहले वह सभी सपा में शामिल होंगे। सरकार ऐसी हाेनी चाहिए जो सब के लिए खुशहाली और भेदभाव से परे होकर काम करे। जनता प्रदेश में योगी फ्री सरकार चाहती है। वह अब सपा सरकार की तरफ ताक रही है।

यह भी पढ़ें: UP Budget: पेपर फ्री बजट नहीं बल्कि योगी फ्री यूपी चाहते हैं लोग: अखिलेश यादव

Related Articles

Back to top button