कांग्रेस के घोषणापत्र पर यूपी सीएम ने कसा तंज, कहा- 55 वर्षों की नाकामी को घोषणापत्र में किया व्यक्त

देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस ने आज 2019 लोकसभा चुनावों के लिए घोषणापत्र जारी किया. राजधानी दिल्ली में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी की मौजूदगी में घोषणापत्र जारी किया गया. इस दौरान घोषणापत्र समिति के अध्यक्ष पी. चिदंबरम ने कहा कि घोषणा पत्र में किसानों, उद्योगों, दलितों, अल्पसंख्यकों, कामगारों, महिलाओं के हितों को सम्मिलित किया गया है. इस दौरान राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा “हमारे घोषणापत्र के मुख्य विषय न्याय योजना (गरीब परिवारों को 72000 रुपये सालाना देने की योजना), रिक्त पड़े 22 लाख सरकारी पदों को भरकर युवाओं को रोजगार, मनरेगा के अंतर्गत 100 दिनों के बजाय 150 दिनों की निश्चित रोजगार योजना, शिक्षा में छह प्रतिशत जीडीपी का उपयोग हैं.”

इस बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस के घोषणापत्र पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा, “इस चुनाव में जनता बीजेपी नेतृत्व को दुबारा जवाब देगी. उन्होंने 55 साल की अपनी नाकामयाबी को घोषणापत्र के माध्यम से व्यक्त किया है.

वहीं, कांग्रेस का घोषणापत्र जारी करते हुए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि घोषणापत्र ‘प्रगतिशील अर्थव्यवस्था’ पर केंद्रित है व बताता है कि दीर्घकालीन गरीबी से कैसे छुटकारा पाया जा सकता है. उन्होंने मीडिया से कहा, “घोषणा पत्र का उद्देश्य प्रगतिशील अर्थव्यवस्था की दिशा में आगे बढ़ना पर ध्यान केंद्रित करना है. सभी चाहते हैं कि भारत एक समृद्ध देश बने, एक ऐसा देश जहां समृद्धि व उत्पादकता साथ-साथ बढ़ें.”

Related Articles