गोरखपुर के खुटहन में बनेगा AIIMS, राज्य सरकार ने दी 234 एकड़ जमीन

Akhilesh-Yadavगोरखपुर। गोरखपुर में एम्स का सपना जल्द पूरा हो जायेगा। इससे पूरे शहर और आसपास के जिलों में इन्सेफेलाइटिस सहित अन्य कई गंभीर बीमारियों का इलाज आसानी से किया जा सकेगा। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एम्स के लिए सदर तहसील के खुटहन में प्रस्तावित जगह को मंजूरी देने का अनुरोध केंद्र सरकार से किया है। मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जेपी नड्डा को पत्र लिख कर कहा है कि गोरखपुर में एम्स बहुत जरूरी है। इसी साल के अप्रैल महीने में खुटहन में एम्स की स्थापना का प्रस्ताव केंद्र को पहले ही भेजा जा चुका है।

अखिलेश यादव ने श्री नड्डा से कहा है कि केंद्र सरकार की एक टीम 28-29 अप्रैल को इस जगह का निरीक्षण कर चुकी है। निरीक्षण के बाद केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने 29 जुलाई को प्रदेश सरकार को पत्र भेजकर प्रस्तावित स्थल पर अवस्थापना सुविधाएं जैसे फोर लेन कनेक्टिविटी के लिए सड़क, विद्युत आपूर्ति, जल आपूर्ति, वैधानिक अनापत्तियां प्रमाण पत्र उपलब्ध कराने के अपेक्षा की थी। प्रदेश के प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा ने केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय को इस बारे में अब तक की स्थिति की जानकारी दे दी है।

अखिलेश यादव ने केंद्र को भरोसा दिलाया 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लिखा है कि एम्स के लिए प्रस्तावित स्थल का क्षेत्रफल 94.99 हेक्टेयर (234.71 एकड़) है। यह जमीन किसी भी विवाद में नहीं है। इसके अलावा गोरखपुर के आसपास कोई उपयुक्त जगह नहीं है। इस जगह से रेलवे स्टेशन 19 किमी ही दूर है। इस समय भी यह भूखंड 3.75 मीटर पक्की रोड पर स्थित है। केंद्र सरकार से मंजूरी मिलते ही राज्य सरकार इसे 6 महीने के अन्दर चौड़ा कर देगी। अखिलेश यादव ने कहा है कि मंजूरी मिल जाए तो एम्स को एक साल के अन्दर फोर लेन से भी जोड़ दिया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button