सात रूपए की बिजली 22 रुपये प्रति यूनिट खरीद रहा यूपी : योगी

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि इस त्योहारी सीजन में सरकार बाहरी स्त्रोतों से 22 रुपये प्रति यूनिट तक की कीमत पर बिजली खरीद रही है क्योंकि वह त्योहारों के उल्लास को कम नहीं करना चाहते हैं। सीएम योगी ने कहा कि आम दिनों में इतनी ही बिजली सात रुपये प्रति यूनिट के हिसाब से खरीदी जाती थी।

कोयला संकट की वजह से 22 रूपए यूनिट की हो गई है बिजली

हाल में हुए एक कार्यक्रम में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने पहली बार बिजली के संकट को स्वीकार किया।मुख्यमंत्री ने कहा कि हम किसी भी जिले में बिजली संकट की वजह उत्सव खराब नहीं होने देंगे। राज्य सरकार गरीबों के घरों और ग्रामीण क्षेत्रों में जाति, समुदाय, क्षेत्र या धर्म के लोगों के उत्साह को बनाए रखने के लिए बिजली मुहैया कराने के लिए कटिबद्ध है।

उन्होंने आगे कहा कि यह पिछली सरकारों के विपरीत है जब बिजली की आपूर्ति कुछ ही जिलों में की जाती थी जबकि अन्य को अंधेरे में छोड़ दिया जाता था। मुख्यमंत्री का यह बयान उन खबरों के बीच आया है कि लगातार बारिश के कारण कोयला खदानों में पानी के रिसने के बाद कोयला संकट के दौरान निजी कंपनियां पैसा कमा रही थीं।

योगी आदित्यनाथ ने त्योहारों के समय दंगों और हिंसा को बढ़ावा देने के लिए पिछली सपा सरकार को भी आड़े हाथों लिया। उन्होंने विपक्ष की आलोचना करते हुए कहा कि भाई-भतीजावाद समाज और पूरे देश के विकास की राह में सबसे बड़ी बाधा है।

यह भी पढ़े : विधानसभा चुनाव से पहले पंजाब सरकार ने किया water bill माफ

Related Articles