IPL
IPL

UP Panchayat Election 2021: मास्क नहीं तो वोट नहीं, बिना मास्क नामांकन नहीं, जानिए नए नियम

इसके तहत  नो मास्क-नो नॉमिनेशन ( No mask-no nomination ) सहित कई तरह के नियम बनाए गए हैं। इन्हीं निर्देशों के अनुसार चुनाव कराया जाएगा।

लखनऊ: कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए उत्तर प्रदेश में होने वाले पंचायत चुनाव के लिए नई कोरोना गाइडलाइन जारी की गई हैं। इसके तहत  नो मास्क-नो नॉमिनेशन ( No mask-no nomination ) सहित कई तरह के नियम बनाए गए हैं। इन्हीं निर्देशों के अनुसार चुनाव कराया जाएगा।

राज्य निर्वाचन अधिकारी ( State election officer )  ने सभी जिला मजिस्ट्रेट ( District Magistrate )  और जिला निर्वाचन अधिकारियों को इसके लिए दिशा निर्देश जारी किए हैं, जिसके तहत मतदान से पूर्व मतदान केंद्रों को सैनिटाइज कराना, सभी मतदान कर्मियों को मास्क पहनना और सभी के मोबाइल में आरोग्य सेतु एप डाउडलोड अनिवार्य कर दिया गया है।

अधिकारी कराएंगे नियमों का पालन

राज्य निर्वाचन अधिकारी ने जिला स्तर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी या उनकी ओर से नियुक्त डॉक्टर को नोडल अधिकारी ( nodal officer ) नियुक्त किया जाए। जबकि विकास खंड स्तर पर प्रभारी चिकित्सा अधिकारी या उनकी ओर से नियुक्त डॉक्टर को नोडल अधिकारी होंगे। नोडल अधिकारियों पर ही कोविड के नियमों के पालन की जिम्मेदारी रहेगी।

ये होंगी नियम

नए नियमों के मुताबिक कोई भी उम्मीदवार चुनाव के लिए अगर अपना पर्चा दाखिल करना चाहता है तो वो बिना मास्क के रिटर्निंग ऑफिसर के कक्ष में नहीं जा सकता। इसके साथ ही मास्क के बिना प्रत्याशी नामांकन भी नहीं कर पाएंगे। कोई भी प्रधान प्रत्याशी चुनाव प्रचार के दौरान पांच से अधिक लोगों की भीड़ इकट्ठा नहीं कर सकता। इसके साथ ही प्रचार के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing ) का पालन भी करना होगा।

सभी उम्मीदवारों, दलों व समूहों को जनसभा, नुक्कड़ सभा करने के लिए केन्द्र व राज्य सरकार की ओर से जारी कोविड-19 से सम्बंधित सभी दिशा निर्देशों का पालन करना होगा। वहीं पंचायत चुनाव प्रचार के दौरान 5 लोगों को शामिल होने की इजाजत होगी और सभी उम्मीदवारों, दलों व समूहों को जनसभा, नुक्कड़ सभा करने के लिए केन्द्र व राज्य सरकार की ओर से जारी कोविड-19 से सम्बंधित सभी दिशा निर्देशों का पालन करते हुए आयोजित किये जाएंगे।

पान-गुटका पर भी रोक

चुनाव कार्य में लगाए गए प्रत्येक कर्मी को फेस मास्क लगाना आवश्यक होगा। मतदान केंद्र को उपयोग में लिए जाने से पूर्व सेनेटाइज करवाया जाएगा। इसके साथ ही मतदान दलों के कर्मियों के प्रस्थान के समय उनका थर्मल स्कैनर से जांच की जाएगा और पान, गुटखा, तंबाकू आदि मादक पदार्थ का सेवन पर पूरी तरह से प्रतिबंध रहेगा।

यह भी पढ़ें: Patna High Court का बड़ा फैसला, बिहार के सभी लॉ कॉलेजों में नामांकन पर रोक, ये रही वजह

Related Articles

Back to top button