UP फिर शर्मसार, डिलीवरी के दौरान नाबालिग गैंगरेप पीड़िता की मौत, आरोपी गिरफ्त से दूर

एक और गैंगरेप पीड़िता की मौत

कानपुर से आज एक दर्दनाक खबर सामने आई है. जहां हैलट में भर्ती एक गैंगरेप पीड़िता की मौत हो गई. नाबालिग गैंगरेप पीड़िता की मंगलवार को प्री-मेच्योर डिलीवरी (6 महीने) हुई. इसके बाद मां-बच्चा दोनों की मौत हो गई. उससे लेखपाल और गांव के युवक समेत 4 लोगों ने गैंगरेप किया था. मामला अफसरों तक पहुंचने पर पुलिस ने FIR दर्ज की थी.लेकिन आरोपी लेखपाल की आज तक गिरफ्तारी नहीं हो सकी. पुलिस गांव के रहने वाले सिर्फ एक आरोपी करण को जेल भेज पाई है.

4 महीने की गर्भवती होने की जानकारी

मामला ककवन थाना क्षेत्र के एक गांव का है. यहां रहने वाली 16 साल की एक किशोरी के पिता ने 11 अक्टूबर को 4 लोगों के खिलाफ बेटी से गैंगरेप करने की FIR दर्ज कराई थी. आरोप था कि लेखपाल रंजीत ने गांव के युवक करण और 2 अन्य लोगों के साथ मिलकर उनकी बेटी से रेप किया. बेटी के 4 महीने की गर्भवती होने पर परिजनों को मामले का पता चला.

दो महीने बाद भी लेखपाल की गिरफ्तारी नहीं

FIR दर्ज होने के 2 महीने बाद भी पुलिस आरोपी लेखपाल को गिरफ्तार नहीं कर सकी है. SP आउटर अजीत सिन्हा ने बताया कि लेखपाल की भूमिका की अभी जांच की जा रही है. इसके चलते का ककवन थाना प्रभारी ने उसकी गिरफ्तारी नहीं की थी. अब मामले में कार्रवाई करने का आदेश दिया गया है. जल्द ही फरार लेखपाल की गिरफ्तारी होगी. अन्य 2 अज्ञात आरोपियों के नाम भी सामने लाने का आदेश दिया गया है.

 

यह भी पढ़ें- मेरे पापा से मुझे बचाओ, जब एक बेटी ने लगाई CM योगी से गुहार

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)…

 

Related Articles