कोरोना से UP के दिग्गज नेता चौधरी अजीत सिंह का निधन, गुडगाँव में थे भर्ती

नई दिल्ली: पश्चिम यूपी के दिग्गज नेता व रष्ट्रीय लोकदल (RLD) के अध्यक्ष का बुधवार सुबह निधन हो गया. 86 वर्षीय चौधरी अजीत सिंह कोरोना संक्रमित थे. मंगलवार को उन्हें गुडगाँव के एक अल्पताल में भर्ती कराया गया था. ट्विटर पर उनके निधन की जानकारी उनके बेटे जयंत चौधरी ने दी.

बता दें कि 20 अप्रैल को चौधरी अजीत सिंह की कोरोना रिपोर्ट पोजिटिव आई थी. आज सुबह करीब 6 बजे उन्होंने अंतिम सास ली. जयंत चौधरी ने कहा, “दुख और महामारी के काल में हमारी प्रार्थना है कि अपना पूरा ध्यान रखें, संभव हो तो घर में रहें और सावधानी जरूर बरतें. इससे देश में सेवा कर रहे डॉक्टर व स्वास्थ्य कर्मचारियों को भी मदद मिलेगी. ये चौधरी साहब को आपकी सच्चा श्रदांजलि होगी.”

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर चौधरी अजित सिंह के निधन पर शोक व्यक्त किया है. PM मोदी ने कहा, “पूर्व केंद्रीय मंत्री चौधरी अजित सिंह जी के निधन से अत्यंत दुख हुआ है. वे हमेशा किसानों के हित में समर्पित रहे. उन्होंने केंद्र में कई विभागों की जिम्मेदारियों का कुशलतापूर्वक निर्वहन किया. शोक की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिजनों और प्रशंसकों के साथ हैं. ओम शांति!”

बता दें की स्वर्गीय अजित सिंह पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के पुत्र थे. चौधरी अजित सिंह ने साल 1986 से अपना पालिटिकल सफ़र शुरू किया था. 1986 में वह संसद के उच्च सदन राज्यसभा भेजे गए थे. 1987 से 1988 तक लोकदल (ए) और जनता पार्टी के प्रेसिडेंट की भूमिका निभाई. 1989 में उन्होंने अपने दल का विलय जनता दल में कर दिया. अजित सिंह 6 बार लोकसभा और एक बार राज्यसभा सांसद रहे. इसके अलावा 4 प्रधानमंत्रियो की कैबिनेट में मंत्री भी रहे.

ये भी पढ़ें : Corona Update: देश में COVID-19 के 4,12,262 नए केस, तीसरी लहर की चेतावनी, लद्दाख में कोरोना की Entry

Related Articles