यूपी: योगी सरकार का संकल्प, हर जिले में होगा मेडिकल कालेज

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में शुक्रवार को हुयी मंत्रिमंडल की बैठक में चरणबद्ध तरीके से मेडिकल कालेज की स्थापना का संकल्प लिया गया।

लखनऊ: कोरोना काल में चिकित्सा सुविधाओं को बेहतर बनाने के लिये भारी भरकम धनराशि खर्च कर चुकी उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने संकल्प लिया है कि सूबे के हर जिले में कम से कम एक मेडिकल कालेज की स्थापना की जायेगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में शुक्रवार को हुयी मंत्रिमंडल की बैठक में चरणबद्ध तरीके से मेडिकल कालेज की स्थापना का संकल्प लिया गया। पहले चरण में 13 नए राजकीय मेडिकल काॅलजों की प्रायोजना की निर्माण लागत तथा प्रायोजना में प्राविधानित उच्च विशिष्टियों के प्रयोग के प्रस्ताव को मंजूरी दी गयी है जिसमें कानपुर देहात, चन्दौली, लखीमपुरखीरी, बुलन्दशहर, सोनभद्र (एडी), पीलीभीत, औरैया, ललितपुर, कुशीनगर, गोण्डा, सुल्तानपुर, बिजनौर, कौशाम्बी शामिल है।

राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि यह राजकीय मेडिकल काॅलेज केन्द्र सहायतित योजना (फेज-3) के अन्तर्गत जिला चिकित्सालय/रेफरल अस्पताल को उच्चीकृत कर स्थापित किए जाएंगे। उल्लेखनीय है कि केन्द्र सहायतित योजना (फेज-3) के अन्तर्गत 14 जिलों कानपुर देहात, चन्दौली, लखीमपुरखीरी, बुलन्दशहर, सोनभद्र (एडी), पीलीभीत, औरैया, ललितपुर, कुशीनगर, गोण्डा, सुल्तानपुर, बिजनौर, कौशाम्बी एवं अमेठी का चयन राजकीय मेडिकल काॅलेजों की स्थापना के लिए किया गया है।

यह भी पढ़े: कोरोना से मरने वालों की संख्या में पिछले छह सप्ताह में 60 प्रतिशत की वृद्धि

यह भी पढ़े: उमर अब्दुल्ला का आरोप, मतदान का बहिष्कार करवाने पर तुला है प्रशासन

Related Articles