UP BY POLL 2018 रिजल्ट : बीजेपी की अबतक की सबसे बड़ी हार तय

लखनऊ| उत्तर प्रदेश के कैराना लोकसभा और नूरपुर विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव की गुरुवार को मतगणना शुरू हो गई। कैराना में बीजेपी और आरएलडी में कांटे की टक्कर है। यहां तबस्सुम हसन को सपा और बसपा का समर्थन मिला हुआ है। 16.9 लाख मतदाताओं वाली कैराना सीट से 12 प्रत्याशी मैदान में थे.

कैराना

ताजा रुझानों के मुताबिक,

  • आरएलडी की तबस्सुम हसन 75988 वोटों से आगे
  • आरएलडी 65 हजार वोटों से आगे
  • राष्ट्रीय लोक दल की तबस्सुम हसन 35 हजार वोटों से आगे चल रही हैं.
  • नूरपुर में सपा के नईमुल हसन 7, 284 मतों के साथ आगे चल रहे हैं.
  •  32165 वोटों से आगे हुई आरएलडी
  • अभी तक आरएलडी की तबस्सुम हसन को 34184 वोट मिले हैं, तो वहीं बीजेपी की मृगांका सिंह को 27637 वोट मिले हैं. आरएलडी करीब 6547 वोटों से आगे चल रही है.
  • कैराना लोकसभा सीट पर RLD उम्‍मीदवार तबस्सुम हसन 3385 वोटों से आगे
  • कैराना में पहले राउंड के बाद बीजेपी की मृगांका सिंह 46 वोटों से आगे

आपको बता दें कि कैराना और नूरपुर में 28 मई को मतदान हुआ था लेकिन मतदान के दौरान कई ईवीएम मशीनों में गड़बड़ी की शिकायतें आने के बाद कैराना के 73 मतदान केंद्रों पर बुधवार को पुनर्मतदान कराया गया था। इसके बाद गुरुवार सुबह आठ बजे से मतगणना का काम चल रहा है। दोपहर बाद तक नतीजे आने की उम्मीद है।

कैराना लोकसभा सीट पर भाजपा के लिए काफी अहम मानी जा रही है। यहां बीजेपी के वरिष्ठ नेता हुकुम सिंह के निधन के बाद सीट खाली हो गई थी। अब पार्टी ने उनकी बेटी मृगांका सिंह को उम्मीदवार बनाया है जबकि गठबंधन की ओर से राष्ट्रीय लोकदल की उम्मीदवार तबस्सुम हसन मैदान में हैं।

नूरपुर में भाजपा प्रत्याशी अवनी सिंह, सपा प्रत्याशी नईमुल हसन और लोकदल प्रत्याशी गौहर इकबाल में मुकाबला है। नूरपुर में भाजपा विधायक लोकेंद्र चौहान के निधन के कारण उपचुनाव हो रहे हैं।

गौरतलब है कि कैराना लोकसभा सीट के उपचुनाव पर देश के राजनीतिक दलों की निगाहें हैं। गोरखपुर और नूरपुर हारने के बाद बीजेपी इस किसी भी हाल में इस सीट पर कब्ज़ा करना चाहती है। वहीँ सपा और बसपा अपनी सियासी जमीन मजबूत करने के लिए इस सीट पर कब्ज़ा चाहते हैं। 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले हो रहे इस उपचुनाव के नतीजे देश की सियासत को नया संदेश देने वाले हैं।

Related Articles