कानपुर मेट्रो की सुरक्षा संभालेगी UPSSF, जानें UPSSF के बारे में पूरी जानकारी

मेट्रो ट्रेन के द्वार बहुत जल्द कानपुरवासियों के लिए खुलने वाले हैं

मेट्रो ट्रेन के द्वार बहुत जल्द कानपुरवासियों के लिए खुलने वाले हैं. 28 दिसंबर को PM मोदी इसका लोकार्पण करेंगे. इससे पहले आईबी और CISF की टीम मेट्रो स्टेशन के पूरे रूट और का सिक्योरिटी चेक करेगी. सुरक्षा का पूरा खाका भी तैयार करेगी. वहीं मेट्रो की सुरक्षा की पूरी जिम्मेदारी उ. प्र. स्पेशल सिक्योरिटी फोर्स (UPSSF) के हाथ में होगी.

मेट्रो सुरक्षा के लिए स्पेशल सुरक्षा दस्ते का गठन

मेट्रो और एयरपोर्ट की सुरक्षा के लिए यूपी में स्पेशल सुरक्षा दस्ते का गठन किया गया है. इसके तहत यूपीपीसीएफ के 250 जवान तैनात किए जाएंगे. 20 दिसंबर से इन जवानों की तैनाती होगी. इसके अलावा प्राइवेट सिक्योरिटी कंपनी के 150 जवान भी सुरक्षा व्यवस्था संभालेंगे. इस दस्ते को यूपी सरकार से कई विशेष पावर प्रदान की गई हैं. बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सितंबर 2020 में कोर्ट, धार्मिक स्थलों, विशेष प्रतिष्ठानों की सुरक्षा के लिए स्पेशल फोर्स का गठन किया था.

बिना वारंट गिरफ्तार करने की पावर

यूपी एसएसएफ को यूपी सरकार ने विशेष शक्तियों से लैस किया है. इसके तहत इस दस्ते के किसी भी जवान को धारा-10 के अंतर्गत कोई अपराध किया है या किया जा रहा है. या अपराधी के निकल भागने या छिपने की आशंका है तो दस्ते द्वारा संबंधित को तत्काल गिरफ्तार कर सकता है. तलाशी लेने के लिए भी कोई परमीशन नहीं लेनी पड़ेगी.

यह भी पढ़ें- ‘खलनायक’ बना UP पुलिस का नायक, जानें कैसे

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)…

Related Articles