सीएनएन की जांच के बाद अमेरिका ने लीबियाई तस्करों पर लगाया प्रतिबंध

0

वाशिंगटन: अमेरिका ने आव्रजकों की तस्करी और मानव तस्करी में शामिल होने के आरोप में लीबिया के छह लोगों के खिलाफ प्रतिबंध लगाया है। इस मामले का खुलासा समाचार चैनल सीएनएन की अंडरकवर जांच में हुआ।

अमेरिका

अमेरिकी वित्त विभाग ने सोमवार को खुलासा किया कि सीएनएन की जांच में हुए खुलासे के बाद छह पुरुषों पर वित्तीय प्रतिबंध लगा दिए गए हैं। सीएनएन की जांच में खुलासा हुआ कि कैसे यह आरोपी अफ्रीका में फैले एक नेटवर्क के जरिए आव्रजकों और शरणार्थियों की तस्करी कर कमाई करते हैं।

संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की राजदूत निक्की हेली ने कहा कि गुलामों के रूप में लोगों को बेचे जाने की रिपोर्ट की तस्वीरों ने हमारी अंतरात्मा को झकझोर कर रख दिया है। इन लोगों पर आपराधिक नेटवर्क संचालित करने का आरोप है जो लीबिया के माध्यम से यूरोप में बड़ी संख्या में बदहाल आव्रजकों की तस्करी करते थे।

इनमें से एक लीबिया तटरक्षक का कमांडर है। उस पर आग्नेयास्त्रों का इस्तेमाल कर आव्रजकों को ले जाने वाली नावों को जानबूझकर डुबाने का आरोप है। सीएनएन द्वारा प्राप्त संयुक्त राष्ट्र के दस्तावेजों के मुताबिक, दूसरे शख्स पर आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) के साथ लंबे समय से संबंध रखने का आरोप है।

समूह के अन्य लोगों पर आव्रजकों को ‘यौन गुलाम’ के रूप में बेचने और भूमध्यसागरीय क्षेत्र में सबसे भयावह प्रवासी नाव दुर्घटनाओं के लिए जिम्मेदार होने का आरोप है छह पुरुषों पर लगाए प्रतिबंधों में उनकी वित्तीय संपत्तियों को जब्त करने के साथ ही निजी खातों और उनकी वैश्विक व्यवसायिक गतिविधियों को प्रतिबंधित करना भी शामिल है।

इन पर सख्त यात्रा प्रतिबंध भी लगाए जाएंगे। ‘यूरोपियन माइग्रेंट स्मगलिंग सेंटर’ (ईएमएससी) के अनुसार, तस्करी नेटवर्क में शामिल लोगों के लिए मजबूर लोगों का शोषण कर अरबों में राजस्व कमाने के साथ यह एक आकर्षक व्यवसाय रहा है।

loading...
शेयर करें