अमेरिकी राजनयिक सचिव मैरी रॉयस मुस्लिम देशों की यात्रा पर

अमेरिकी राजनयिक सहायक सचिव मैरी रॉयस मुस्लिम देशों की यात्रा पर

वाशिंगटन: अमेरिका के एक वरिष्ठ राजनयिक महिला उद्यमियों को बढ़ावा देने के लिए इन दिनों खाड़ी,मध्य एशिया और उत्तरी अफ्रीका के मुस्लिम देशों की यात्रा पर हैं।

अमेरिकी विदेश मंत्रालय

अमेरिकी विदेश मंत्रालय के मुताबिक शैक्षिक और सांस्कृतिक मामलों की सहायक सचिव मैरी रॉयस आगामी 28 नवम्बर तक अबू धाबी और दुबई, संयुक्त अरब अमीरात,रबात और टैंगियर, मोरक्को,नूर सुल्तान और अल्माटी तथा कजाकिस्तान की यात्रा पर रहेंगी।

द्विपक्षीय सहयोग

रॉयस संयुक्त अरब अमीरात में वहां के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ मिलकर शिक्षा और पूर्ण कार्यक्रमों सहित शैक्षिक विनिमय कार्यक्रमों पर द्विपक्षीय सहयोग पर चर्चा करेंगी। वह इसके अलावा वह एक्सपो 2020 दुबई के लिए यूएस के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ यूएस पैवेलियन के समापन समारोह में भाग लेंगी। वहीं मोरक्को में वह शिक्षा और संस्कृति पर द्विपक्षीय सहयोग पर चर्चा करने के लिए मोरक्को सरकार के वरिष्ठ सदस्यों के साथ बैठक करेंगी।

विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ

अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने अक्टूबर में कहा था कि अमेरिका और भारत के रिश्तों को और मजबूत बनाने के लिए उनकी यात्रा पुराने गठबंधनों को मजबूत करने और अपने स्वयं के वैश्विक नेटवर्क के निर्माण से रूसी और चीनी प्रयासों के खिलाफ नए विकास के लिए एक व्यापक अमेरिकी पहल का हिस्सा है।

भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश

चीन से विवाद पर भारत का पक्ष लेते हुए अमेरिका के रक्षा मंत्री मार्क एस्पर बोले, ‘भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश है। भारत योग्य लोगों से भरा एक योग्य देश है। वहां के लोग हर रोज हिमालय में चीनियों का सामना कर रहे है।

द्विपक्षीय नौसेना सहयोग

भारत और अमेरिका की द्विपक्षीय नौसेना सहयोग के तहत मालाबार युद्धाभ्‍यास 1992 में शुरू किया गया था। 2018 में यह वार्षिक युद्धाभ्‍यास फिलीपींस की गुआम के तट पर और 2019 में जापान के तट पर हुआ था।

यह भी पढ़े:राजधानी को दहलाने की बड़ी साजिश नाकाम, स्पेशल सेल ने दो आतंकियों को दबोचा

यह भी पढ़े:शेयर बाजारों में दीपावली के बाद भी जोरदार रौनक, सेंसेक्स 44 हजार के पार

Related Articles

Back to top button