अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पियो को ईरान से तनाव कम करने के लिए नहीं मिली इजाजत

देश विदेश: अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने ईरान के साथ चल रहे विवाद को कम करने की बात कही। जिससे उन्होंने तनाव कम करने के लिए तेहरान से सीधे बातचीत की पेशकश की थी। लेकिन इसके लिए ईरान ने इजाजत नहीं दी। पोम्पियो ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है।

पोम्पियो बोले ईरान के तथ्यों में नहीं है कोई सच्चाई

इस पर उन्होंने कहा कि ईरान के विदेश मंत्री जावद जरीफ अमेरिका आ सकते हैं, उनके यहां आने से हम भयभीत नहीं हैं। बता दें बीते महीने ओमान की खाड़ी में दो तेल टैंकरों में विस्फोट और ईरान के अमेरिकी ड्रोन को मार गिराने के बाद से दोनों देशों के बीच तनाव और बढ़ा दिया है।

कांग्रेस नेता कुलदीप विश्नोई पर आयकर विभाग ने मारा छापा, मिली २०० करोड़ की संपत्ति
पोम्पियो ने कहा कि ईरान के सर्वोच्च नेता अली खमनेई के प्रशासन द्वारा जो तथ्य बताए जा रहे हैं, उनमें सच्चाई नहीं है। वो मुझे अपना विचार क्यों नहीं बताते? क्या होगा जब उनके लोग सच्चाई जान जाएं। हमारे यहां बातचीत की खुली आजादी है।

अमेरिका और ईरान के बीच बढ़ते तनाव के कारण खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है। जर्मनी, फ्रांस और ब्रिटेन ने इस तनाव को देखते हुए संयुक्त कार्रवाई योजना (जेसीपीओए) के सभी सदस्यों की बैठक बुलाने का आह्वान किया था। इन देशों का कहना है कि अमेरिका के ईरान पर प्रतिबंध लगाने और ईरान द्वारा समझौते के प्रावधानों को तोड़ने की वजह से खतरा बढ़ रहा है।

एक शर्त पर बातचीत के लिए तैयार ईरान

ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी का कहना है कि अगर अमेरिका सारे प्रतिबंध हटा देता है तो वह बातचीत के लिए तैयार हैं। उनका कहना है कि अमेरिका धमकी देना बंद करे और ईरान ने अब संयम छोड़कर जवाबी कार्रवाई की नीति को अपना लिया है। उनका कहना है कि परमाणु कार्यक्रम से जुड़े किसी भी कदम का सख्ती से जवाब दिया जाएगा।

Related Articles