अमेरिकी प्रतिबंधों को रूस ने स्पष्ट रूप से किया खारिज

मॉस्को: रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने शुक्रवार को अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो को बताया कि स्क्रिपल मामले में रूस की कथित भूमिका को लेकर उस पर लगाए गए प्रतिबंध को स्पष्ट रूप से खारिज करते हैं। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने विदेश मंत्रालय के हवाले से कहा कि लावरोव ने रूस के रुख को दोहराते हुए कहा कि पूर्व रूसी जासूस सर्गेई स्क्रिपल पर ब्रिटिश शहर सैलिसबरी में कथित रूप से घातक नर्व एजेंट से हमला करने के पीछे रूस का कोई हाथ नहीं है।


लावरोव ने जोर देते हुए कहा कि न तो अमेरिका न ब्रिटेन या किसी और देश ने अपने आरोपों के समर्थन में एक भी सबूत दिए हैं। स्क्रिपल और उनकी बेटी यूलिया पर मार्च में सैलिसबरी में घातक जहरीले पदार्थ से हमला हुआ था।

अमेरिकी विदेश विभाग न बुधवार को कहा था कि अमेरिका हमले के आरोप में रूस पर नए प्रतिबंध लगाएगा। पश्चिमी देशों ने इसके लिए रूस पर आरोप लगाया, लेकिन रूस लगातार आरोपों का खंडन करता आया है। रूस के प्रवक्ता दिमित्री पेस्कोव ने अमेरिका के इस फैसले की आलोचना की है, जबकि विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जाखरोवा ने कहा कि मॉस्को प्रतिबंधों का जवाब देने पर विचार करेगा।

लावरोव और पोम्पियो ने सीरिया में हालात सहित अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों और 16 जुलाई को हेलसिंकी में ट्रंप और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की मुलाकात के दौरान अन्य जिन अन्य विषयों पर विचार किया गया था, उन पर भी चर्चा की। बयान में कहा गया कि दोनों शीर्ष राजनयिक आपसी हित के सभी मुद्दों पर संपर्क बनाए रखने पर सहमत हुए हैं और कहा गया कि फोन पर बातचीत की पहल अमेरिका की ओर से की गई थी।

Related Articles