जीटीई पर प्रतिबंध के पक्ष में अमेरिकी सीनेट ने किया मतदान

0

सैन फ्रांसिस्को: अमेरिकी सीनेट ने चीन की दूरसंचार कंपनी जीटीई पर प्रतिबंध को फिर से बहाल करने के पक्ष में मतदान किया है। कंपनी पर लगा प्रतिबंध उसे अमेरिकी पुरजे की खरीद और अमेरिकी सॉफ्टवेयर के इस्तेमाल से रोकता है। यह फैसला राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कंपनी पर से प्रतिबंध हटाने के प्रयास के बावजूद लिया गया है।

अमेरिकी सीनेट

सीनेट ने वार्षिक नेशनल डिफेंस अथराइजेशन एक्ट पारित किया है, जिसमें एक संशोधन भी शामिल है। यह संशोधन ट्रंप के उस करार को रोकता है, जिसके जरिए अमेरिकी कंपनियों को जीटीई के साथ कारोबार की इजाजत दी गई थी।

कई रिपब्लिकन और डेमोक्रेट सीनेटरों ने कहा कि उनका वोट राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे से संबंधित हैं, क्योंकि इस साल जीटीई को लेकर कई खुफिया चेतावनियां दी गई हैं, जिसके बाद उन्होंने वोट किया है।

बिजनेस इंसाइडर की मंगलवार की खबर के मुताबिक, “जारी रक्षा वित्त पोषण के लिए इस कानून को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। यह कानून 85-100 मतों से पारित हुआ है। ऐसा बमुश्किल देखा गया है जब ट्रंप की एक नीति पर रिपब्लिकन नियंत्रित सीनेट दो धड़ों में विभाजित हुआ है।” सीनेट खुफिया समिति के उपाध्यक्ष मार्क वार्नर ने ट्वीट किया कि सीनेट ने जीटीई के साथ खराब सौदा करने से ट्रंप प्रशासन को रोक दिया है।

loading...
शेयर करें