पुष्कर सिंह धामी Delhi दौरे पर, इन मंत्रियो से शिष्टाचार की भेंट

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी दिल्ली दौरे पर हैं, इस दौरान उन्होंने पर्यटन मंत्री जी. किशन रेड्डी और रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से मुलाकात की है

नई दिल्ली: उत्तराखंड (Uttarakhand) के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी (Pushkar Singh Dhami) ने केंद्रीय पर्यटन मंत्री जी. किशन रेड्डी से मुलाकात की है। इस दौरान उन्होंने कहा कि, “हमारी शिष्टाचार भेंट हुई। मैं उनका धन्यवाद करने आया हूं, गंगोत्री धाम (Gangotri Dham) के लिए प्रसाद के लिए धनराशि अवमुक्त कर दी गई है।”

रेल मंत्री से मुलाकात

पुष्कर सिंह धामी ने रेल भवन में केन्द्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से भी मुलाकात की है। जिसके बाद उन्होंने कहा, बहुत सारी रेलवे की परियोजनाएं हमारे यहां चल रही है उनकी आगे और प्रगति होनी है उसके संबंध में हमारे बीच वार्ता हुई है।

पतित पावन मंदिर

गंगोत्री धाम उत्तरकाशी से 100 किमी की दूरी पर स्थित है। जहां पर गंगा मैया के मंदिर का निर्माण गोरखा कमांडर अमर सिंह थापा द्वारा 18 वी शताब्दी के शुरूआत में किया गया था। हर साल मई से अक्टूबर के महीनो के बीच पतित पावनी गंगा मैंया के दर्शन करने के लिए लाखो श्रद्धालु तीर्थयात्री यहां आते है। यमुनोत्री की ही तरह गंगोत्री का पतित पावन मंदिर भी अक्षय तृतीया के पावन पर्व पर खुलता है और दीपावली के दिन मंदिर के कपाट बंद होते है।

गंगोत्री मंदिर भोज वृक्षों से घिरा है और किनारे पर खड़े पर्वत की शिवलिंग, सतोपंथ जैसी चोटियों के साथ देवदार जंगल के बीच एक सुंदर घाटी है। भागीरथी घाटी के बाहर निकलकर केदारगंगा तथा भागीरथी के कोलाहल को छोड़कर जल गंगा से मिल जाती है, इस सुंदर घाटी के अंत में मंदिर है। गंगोत्री से 19 किलोमीटर दूर 3,892 मीटर की ऊंचाई पर स्थित गौमुख गंगोत्री ग्लेशियर का मुहाना तथा भागीरथी नदी का उद्गम स्थल है।

यह भी पढ़े15 अगस्त को ‘शेरशाह’ में कैप्टन विक्रम बत्रा की अविश्वसनीय कहानी का प्रीमियर करेगा Amazon Prime

(Puridunia हिन्दीअंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles